BBC navigation

जब टैटू बना ब्रितानी पर्यटक को निकाले जाने की वजह

 मंगलवार, 22 अप्रैल, 2014 को 18:23 IST तक के समाचार
श्रीलंका में ब्रितानी महिला

श्रीलंका के अधिकारियों ने बांह पर भगवान बुद्ध का टैटू बनवाए ब्रिटेन की एक महिला पर्यटक को देश छोड़ कर चले जाने का आदेश दिया है.

सोमवार को भारत से श्रीलंका हवाईअड्डे पर पहुंचीं नाओमी मिशेल कोलमैन के दाहिने बांह पर कमल के फूल पर बैठे भगवान बुद्ध का टैटू देखे जाने के बाद उन्हें तुरंत गिरफ़्तार कर लिया गया.

ब्रितानी महिला को वापस भेजे जाने तक आप्रवासी हिरासत केंद्र में रखा गया है.

श्रीलंका एक क्लिक करें बौद्ध बहुल देश है. यहां सिंहली बौद्ध समुदाय का बहुमत है. श्रीलंका के अधिकारी विदेशियों द्वारा बौद्ध धर्म का किसी भी तरह का अनादर किए जाने पर कठोर कदम उठाते हैं.

यहां बुद्ध की तस्वीरों को लेकर खासतौर पर काफी संवेदनशील रुख अपनाया जाता रहा है.

क्लिक करें कोलंबो में ब्रितानी उच्चायोग से संपर्क किए जाने पर उन्होंने बीबीसी को बताया, "हमें ताज़ा मामले की जानकारी है और हम ज़रूरी सहायता मुहैया करवा रहे हैं."

कट्टर बौद्ध समूह

श्रीलंका भगवान बुद्ध की मूर्ति

पिछले साल मार्च में भी श्रीलंका में ऐसा एक और मामला सामने आया था. तब एक ब्रितानी पर्यटक को कोलंबो अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर प्रवेश करने से रोक दिया गया था.

अप्रवासन मामलों के अधिकारियों ने जानकारी दी थी कि पर्यटक से जब बांह पर बने बुद्ध के टैटू के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बेहद 'अपमानजनक' तरीके से जवाब दिया था.

क्लिक करें ब्रितानी पर्यटक अपने साथ हुई इस घटना से 'स्तब्ध' था. वो अधिकारियों से लगातार आग्रह करते रहे कि वह खुद बौद्ध धर्म के अनुयायी हैं और बुद्ध के प्रति सम्मान ज़ाहिर करते हुए ही वो टैटू बनवाया था.

दो साल पहले, यहां बुद्ध की मूर्ति को चूमने के कारण तीन फ्रांसीसी पर्यटकों को जेल भेज दिया गया था.

श्रीलंका भगवान बुद्ध की मूर्ति

ब्रितानी पर्यटक विभाग श्रीलंका घूमने जाने वालों को बुद्ध से जुड़े मुद्दे की संवेदनशीलता के प्रति हमेशा अगाह करता रहा है.

पर्यटकों को बुद्ध की मूर्ति के आगे तस्वीरें खिंचवाने से भी मना किया जाता रहा है.

पिछले कई सालों से कुछ कट्टर बौद्ध समूह के भिक्षुओं की ओर से मुसलमानों और ईसाइयों के ख़िलाफ़ हिंसक हमले बढ़ गए हैं.

हमले की इस प्रवृति के कारण श्रीलंका में धार्मिक अल्पसंख्यकों के प्रति चिंताजनक स्थिति पैदा हो गई है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे क्लिक करें फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और क्लिक करें ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.