BBC navigation

चीन के 'मेहमानों' से बेल्जियम में दरार

 सोमवार, 24 फ़रवरी, 2014 को 23:42 IST तक के समाचार
पांडा

चीन से आए दो विशेष मेहमानों का बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स पहुँचने पर ज़ोरदार स्वागत किया गया.

चीन के सिचुआन से चार साल के दो विशालकाय पांडों को बेल्जियम लाया गया है जहां वे 15 साल तक रहेंगे.

इन मेहमानों को लेकर विशेष विमान ब्रसेल्स के हवाई अड्डे पर पहुँचा पानी की बौछारों से उसका स्वागत किया गया.

सिंग ह्वे (चमकता सितारा) और हाओ हाओ (सुंदर) नाम के इन क्लिक करें पांडों की अगवानी के लिए बेल्जियम के प्रधानमंत्री एलियो डी रूपो खुद हवाई अड्डे पर मौजूद थे.

उनके अलावा हवाई अड्डे पर कई लोग ख़ासकर बच्चे पांडा के रंग में रंगे इन मेहमानों की अगवानी के लिए मौजूद थे.

ऐसा शानदार स्वागत केवल बड़ी हस्तियों को ही नसीब होता है. लेकिन यहाँ यह सौभाग्य इन पांडों को मिला.

इन पांडों की हैसियत का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनका अपना अलग ट्विटर फीड है.

धुन में मस्त

एलियो डी रूपो

12 घंटे की यात्रा के बावजूद वे तरोताज़ा लग रहे थे और अपने आसपास होने वाली घटनाओं से बेख़बर अपनी धुन में मस्त थे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि क्लिक करें चीन के साथ उनके देश के रिश्ते काफ़ी अच्छे हैं और पांडों के आने से ये और प्रगाढ़ हो जाएंगे.

पांडों के आने से दोनों देशों के रिश्तों में तो नए युग की शुरुआत हुई है लेकिन इसने क्लिक करें बेल्जियम में पुराने ज़ख्मों को ताज़ा कर दिया है.

इन पांडों को फ्रांसीसी बोलने वाले क्षेत्र हिस्से में मोंस के समीप पैरी डाइजा चिड़ियाघर में रखा जाएगा जबकि देश के डच बोलने वाले इलाक़े के लोगों का कहना है कि पांडों को एंटवर्प के पास एक चिड़ियाघर में रखा जाना चाहिए था.

चिड़ियाघर में पांडों के प्रदर्शन से इन दिनों मोटी कमाई हो रही है और पैरी डाइजा चिड़ियाघर को चलाने वालों को उम्मीद है कि पांड़ों के आने से इस साल चिड़ियाघर आने वाले लोगों की संख्या बढ़कर साढे 13 लाख पहुँच जाएगी.

लेकिन सिंग ह्वे और हाओ हाओ की झलक पाने के लिए दर्शकों को अप्रैल तक इंतज़ार करना पड़ेगा.

(बीबीसी हिन्दी के क्लिक करें एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें यहां क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.