BBC navigation

एक पेंटिंग जिसकी क़ीमत है 900 करोड़ रुपए

 बुधवार, 13 नवंबर, 2013 को 14:51 IST तक के समाचार

जाने-माने चित्रकार फ़्रांसिस बेकन की एक पेंटिंग को अब तक की सबसे महंगी कलाकृति का दर्जा मिला है.

न्यूयॉर्क में एक नीलामी के दौरान बेकन की पेटिंग 'थ्री स्टडीज़ ऑफ़ लूसियन फ्रायड' को 14.2 करोड़ डॉलर या क़रीब 900 करोड़ रुपए में बेचा गया.

लूसियन फ़्रायड बेकन के दोस्त थे और उन्होंने इस पेंटिंग को 1969 में बनाया था. इसे बेकन की महानतम कलाकृतियों में शुमार किया जाता है.

क्रिस्टी नीलामी घर ने बताया कि इसे महज़ छह मिनट तक चली रोमांचक बोली के दौरान बेचा गया.

क्लिक करें पढ़ें: और बिक गया गाँधी का चरखा...

'भावनात्मक रिश्ता'

'थ्री स्टडीज़ ऑफ़ लूसियन फ़्रायड' को पहली बार नीलामी के लिए पेश किया गया था और बोली आठ करोड़ डॉलर पर खुली. उम्मीद जताई जा रही थी कि पेंटिंग को 8.5 करोड़ डालर में खरीदा जाएगा.

नीलामी घर ने खरीदार की पहचान सार्वजनिक नहीं की है.

बेकन को उनकी ट्रिप्टिक के लिए जाना जाता है. 'थ्री स्टडीज़ ऑफ़ लूसियन फ़्रायड' को उन्होंने 1969 में लंदन के रॉयल कॉलेज ऑफ आर्ट्स में बनाया था. इससे पहले उनका स्टूडियो आग से पूरी तरह तबाह हो गया था.

क्लिक करें पढें: कार जो 52 साल में बस 32 किलोमीटर चली

महानतम पेंटिंग

क्रिस्टी की यूरोपीय शाखा में युद्ध के बाद और समकालीन कला के प्रमुख फ़्रांसिस आउटरेड ने कहा कि यह काम वास्तव में मास्टरपीस था और यह मौजूदा पीढ़ी में नीलामी के लिए आई महानतम पेंटिंग में से एक है.

उन्होंने कहा कि इससे बेकन और फ़्रायड की दोस्ती के बारे में भी पता चलता है. यह दोनों कलाकारों के बीच रचनात्मक और भावनात्मक संबंधों को समर्पित है.

दोनों कलाकार 1945 में मिले थे और गहरे दोस्त बन गए. उन्होंने कई मौक़ों पर एक दूसरे की पेंटिंग बनाईं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें यहां क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.