सीरिया में 'रासायनिक हथियारों' से हमला

  • 21 अगस्त 2013
सीरिया

सीरिया के विपक्षी कार्यकर्ताओं ने दावा किया है कि दमिश्क के सीमावर्ती इलाके में रासायनिक हथियारों से हमला हुआ है.

सीरिया के विपक्षी कार्यकर्ताओं का दावा है कि हमले में 650 से ज़्यादा लोग मारे गए हैं.

इन विपक्षी कार्यकर्ताओं के मुताबिक ज़हरीले रसायन वाले रॉकेट से सीरिया में दमिश्क के घाउटा क्षेत्र में बुधवार की सुबह तड़के हमला हुआ.

विपक्षी कार्यकर्ताओं ने इस हमले में घायल हुए लोगों को अस्पताल में भर्ती कराए जाने का एक वीडियो यूट्यूब पर अपलोड किया है.

वीडियो में कई बच्चों समेत पीड़ितों को दर्द से तड़पते हुए दिखाया गया है. कुछ लोगों को सांस लेने में दिक्कत आ रही है.

बीबीसी वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं कर सका है लेकिन अतिरिक्त जांच से ये लगता है कि ये वीडियो असली है.

संयुक्त राष्ट्र संघ के पर्यवेक्षकों की एक टीम इससे पहले हुए कथित रासायनिक हथियारों के दावों की जाँच करने के लिए रविवार सुबह सीरिया पहुँची है.

हालाँकि यह स्पष्ट नहीं है कि यह टीम इस ताज़ा कथित हमले की भी जाँच करेगी या नहीं.

सीरिया के सरकारी टीवी का कहना है कि ये ख़बरें 'बेबुनियाद' हैं और पर्यवेक्षकों की टीम का ध्यान बंटाने के लिए की गई हैं.

ब्रिटेन के विदेश मंत्री विलियम हेग ने घटना पर चिंता जताई है और कहा है कि पर्यवेक्षकों को वहां जाने की इजाज़त दी जानी चाहिए.

'अघोषित रासायनिक हथियार'

इस टीम को तीन स्थानों पर हुए ऐसे कथित हमलों की जाँच करनी है. इसमें सीरिया का उत्तरी कस्बा ख़ान अल-असल भी शामिल है जहाँ मार्च में 26 लोग मारे गए थे.

सरकार और विपक्षियों दोनों ने संघर्ष के दौरान एक-दूसरे पर रासायनिक हथियारों के प्रयोग का आरोप लगाया है.

हालाँकि दोनों पक्षों के दावों की पुष्टि करना संभव नहीं है.

ऐसा माना जाता है कि सीरिया के पास मस्टर्ड गैस और स्नायु तंत्र को नुकसान पहुँचाने वाली गैसों का अघोषित ज़खीरा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़े सबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार