स्पेन में तीन दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित

  • 25 जुलाई 2013
ट्रेन दुर्घटना में कम से कम 80 लोग मारे गए हैं.

स्पेन में एक ट्रेन के पटरी से उतर जाने की घटना में कम से कम 80 लोग मारे गए हैं और 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं.

अधिकारियों के अनुसार ये हादसा सेंटियागो दे कोम्पोस्तायला शहर के नजदीक हुआ. ये ट्रेन राजधानी मैड्रिड और फेरो शहर के बीच चलती है.

ट्रेन हादसे के बाद स्पेन के प्रधानमंत्री मारियानो राजॉय ने तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है. घटनास्थल का गुरुवार को दौरा करने के बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि दुर्घटना की रेलवे विभाग द्वारा जांच के साथ-साथ न्यायिक जांच भी की जाएगी.

सुरक्षा कैमरे के फुटेज में नज़र आ रहा है कि ट्रेन कैसे एक मोड़ पर पटरी से फिसल गई और दुर्घटनाग्रस्त हो गई.

अधिकारियों का कहना है कि हादसे के समय ट्रेन की रफ्तार 80 किलोमीटर प्रतिघंटे से ज़्यादा थी.

खबर के मुताबिक ट्रेन के दो ड्राइवरों में से एक से औपचारिक पूछताछ की जा रही है. रेल ऑपरेटर का कहना है कि दुर्घटना से एक दिन पहले ही ट्रेन ने तकनीकी सुरक्षा जांच पूरी की थी.

'भयानक हादसा'

स्पेन में ट्रेन हादसा
ट्रेन में लगभग ढाई सौ लोग सवार थे.

एक चश्मदीद ने बताया कि उन्होंने एक धमाका सुना और ट्रेन के डिब्ब को पटरी से उतरने के बाद कई मीटर तक घिसटते हुए देखा.

स्पेन से मिल रही मीडिया खबरों के अनुसार ट्रेन में लगभग ढाई सौ लोग सफर कर रहे थे और कुछ लोगों के अब भी पटरी से उतरे डिब्बे में फंसे होने की आशंका है.

मैड्रिड से बीबीसी संवाददाता का कहना है कि गुरुवार को सार्वजनिक छुट्टी की पूर्व संध्या पर ये हादसा हुआ जब बहुत से लोग गर्मी के इस मौसम में छुट्टी बिताने के लिए तटीय इलाकों की तरफ जा रहे थे.

स्थानीय खबरों में कहा गया है कि ये स्पेन में पिछले चार दशक में हुआ सबसे भयानक हादसा है.

इस हादसे में ट्रेन के सभी 13 डिब्बे पटरी से उतर गए जिनमें से चार पूरी तरह पलट गए.

स्थानीय सरकार के नेता अल्बर्तो नुनेज़ फाइजो ने हादसे में मारे गए लोगों की संख्या की पुष्टि की है लेकिन दुर्घटना की वजह पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अभी कुछ कह पाना जल्दबाजी होगा.

हादसे के बाद स्पेन के राष्ट्रीय पुलिस बल के 320 सदस्यों को घटनास्थल पर भेजा गया है. स्थानीय सरकार ने लोगों से रक्त दान की अपील की है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)