कितना सही है पार्टनर के साथ कारोबार

  • 24 जुलाई 2013
इवोना गोह और विन्सेंट
गोह का घर बिक्री के सामान से भरा पड़ा है.

इवोना गोह के लिए अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ व्यापार शुरू करने और अपने घर को ही दफ़्तर में बदलने का फैसला लेना आसान नहीं था.

वे कहती हैं, "मैं डरी हुई थी क्योंकि जब आप साथ काम करते हैं तो कई बातों पर आपके बीच असहमति भी होती है."

लेकिन इवोना के ब्वॉयफ्रेंड विन्सेंट ने उन्हें साथ में व्यापार शुरू करने के लिए प्रेरित किया और मना भी लिया. वे अब उनके पति भी है.

वे कहते हैं, "मैंने उनसे कहा कि घर, परिवार, बच्चे जैसी बहुत सी चीजों के बारे में हमें साथ में फैसला लेना होगा. यदि हम साथ में व्यापार नहीं कर सकते और व्यापारिक फैसले नहीं ले सकते तो भविष्य में इन महत्वपूर्ण मामलों में एक दूसरे का साथ कैसे देंगे."

आपसी सहमति बनने के बाद इस जोड़े ने साल 2009 में ई-कॉमर्स वेबसाइट 'मिनिस्ट्री ऑफ रिटेल डॉट' कॉम सिंगापुर स्थित अपने फ्लैट से ही शूरू कर दी.

व्यावसायिक और व्यक्तिगत उद्देश्यों को एक साथ लेकर चलना कुछ लोगों के लिए मुश्किल तो कुछ के लिए बेहद सुविधाजनक हो सकता है. ऐसे में कॉरपोरेट जोड़े अपने जीवन और व्यापार के बारे में सही फैसला कैसे लें?

मुश्किलें

इवोना ने कुछ दिन पहले ही अपने दूसरे बच्चे को जन्म दिया है. मैं उनसे उनके बेडरूम में मिली. बाहर उनका एक कर्मचारी डाइनिंग टेबल पर बैठा लैपटॉप पर कुछ लिख रहा था जबकि परिवार के अन्य लोग रसोई के काम में लगे थे और बच्चे का ख्याल रख रहे थे.

उनका पूरा कमरा कपड़ों और अन्य सामानों के पैकटों से भरा पड़ा था. यही नहीं घर के हर कोनें में भी सामान के पैकेट रखे थे.

साथ काम शुरू करने के बारे में इवोना का डर अकारण नहीं था. 2009 में फ़ुल टाइम व्यापार शुरू करने के बाद से ही दोनों को कई बार मुश्किल हालात का सामना करना पड़ा है.

व्यापारिक फैसलों में मतभेदों को याद करते हुए इवोना बताती हैं कि एक बार तो हालात इतने बुरे हो गए थे कि उन्हें अपनी शादी के लिए परामर्श तक लेने तक के बारे में सोचना पड़ा था.

मतभेद इतने ज्यादा हो गए थे कि दोनों एक दूसरे से बात तक नहीं कर पाते थे. और इसी दौरान विन्सेंट को कैंसर का इलाज कराना पड़ा.

वे कहते हैं कि यह हम दोनों के लिए सजग होने का समय था. पहले हम सिर्फ व्यापार को बढ़ाने के बारे में ही सोचते रहते थे लेकिन कैंसर के बारे में पता चलना जीवन को बदलने वाला अनुभव था. इसके बाद हम परिवार को प्राथमिकता देने लगे.

ज्यादा समय

विशेषज्ञ भले ही काम और परिवार को अलग-अलग रखने की बात करते हों लेकिन इवोना और विन्सेंट ऐसे तमाम नियमों को दरकिनार करते हैं. हालाँकि वे कहते हैं कि उनके पास साथ बिताने और अपने परिवार को देने के लिए ज्यादा समय होता है.

वे अपनी कामयाबी का श्रेय उस फैसले को देते हैं जिसके तहत उन्होंने एक दूसरे के कामों को पूरी तरह विभाजित कर लिया था.

विन्सेंट व्यापार के तकनीकी पक्ष को देखते हैं जबकि इवोना ग्राहकों की पसंद का जिम्मा संभालती हैं. वे तय करती हैं कि ग्राहकों को क्या पसंद आ सकता है और क्या नहीं.

वायलेट और जैमी लिम बहस को खत्म करना जानते हैं.

डेटिंग सेवा "लंच एक्चुअली" से जुड़ी वायलेट और जैमी लिम भी इस तरीके को अपना रहे हैं. वे दोनों पेशेवर लोगों के लिए लंच डेट फिक्स करते हैं.

उनके भी दो बच्चे हैं और वे सिंगापुर, मलेशिया और हांगकांग में दफ़्तर चलाते हैं.

उनके मुताबिक कामयाबी का राज सिर्फ अपने अहंकार के लिए बहस न करना है.

आपसी प्रतिद्वंदिता

वायलेट कहती हैं, "अगर हम किसी बात को लेकर लड़ने लगते हैं तो हम पीछे हटकर यह सोचते हैं कि किसका विचार व्यापार के लिए बेहतर है. अगर उनका विचार बेहतर होता है तो मैं स्वीकार कर लेती हूं. मैं अपने अहंकार को बीच में नहीं आने देती. हम सिर्फ जीतने के लिए बहस नहीं करते."

समाजशास्त्री पॉलिन स्ट्रोहान भी मानती हैं कि अहंकार के लिए लड़ाई ही साथ में शुरू किए गए काम के लिए सबसे बड़ा खतरा होती है. नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर से जुड़ी पॉलिन कहती हैं, "पति-पत्नी के बीच में प्रतियोगिता की भावना व्यापार के लिए बेहद खराब हो सकती है. जैसे ही आप प्रतिद्वंद्विता शुरू करते हैं यह एकजुटता के लिए खतरा बन जाती है और लोगों को एक दूसरे से अलग कर देती है."

मिनिस्ट्री ऑफ रिटेल
मिनिस्ट्री ऑफ रिटेल शॉपिंग साइट सिंगापुर के एक घर से चलती है.

आपसी प्रतिद्वंद्विता का खामियाजा बेन (हम उनका असली नाम नहीं छाप रहे हैं) को अपने व्यापार को बंद करके चुकाना पड़ा. बेन ने अपनी प्रेमिका और दो दोस्तों को साथ मिलकर मोबाइल एप्लीकेशन का कारोबार शुरू किया था. बेन के मुताबिक उनकी गर्लफ्रेंड और उनके बीच हमेशा कई मुद्दों को लेकर मतभेद रहता था. इसी कारण दोनों न व्यापारिक सहयोगी रहे और न ही प्रेमी-प्रेमिका.

रिश्तों की परीक्षा

वे कहते हैं, "रिश्तों की परीक्षा भी जरूरी है इसी से आपको पता चलता है कि यह कितना चलेंगे लेकिन इसका मतलब यह नहीं होता कि आप जानबूझ कर हर चीज़ में इनकी परिक्षाएं लेते रहें."

बेन कहते हैं कि अब वह किसी ऐसे व्यक्ति के साथ व्यापार शुरू नहीं करना चाहेंगे जिसके साथ वे रिश्ते में बंधें होंगे.

बेन का अनुभव भले ही अलग हो लेकिन साथ में काम करने से जब काम चल पड़ता है तो फिर इससे बेहतर और कुछ नहीं होता.

वायलेट और जेमी कहते हैं कि उनके लिए साथ में काम करना सुविधाजनक और परेशानी रहित है हैं क्योंकि उन दोनों की रुचियाँ मिलती हैं.

मिनिस्ट्री ऑफ रिटेल के विन्सेंट कहते हैं कि साथ में काम शुरू करने के बारे में सोच रहे हर जोड़े को वे आगे बढ़ने की सलाह देंगे.

वे कहते हैं, "अगर आप अपने रिश्तों को मजबूत करना चाहते हैं तो आपको चुनौतियों और मुसीबतों से भी गुजरना होगा. इससे संबंध अटूट बनते हैं. यदि सब कुछ आसान और सरल हो तो फिर न आपका व्यक्तित्व निखरेगा और न ही रिश्ते."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)