BBC navigation

वो जलती रही, लोग तमाशा देखते रहे

 गुरुवार, 7 फ़रवरी, 2013 को 15:50 IST तक के समाचार

महिला को पुलिसकर्मी भी नहीं बचा सके

पापुआ न्यू गिनी में एक महिला को जादू-टोना करने के आरोप में प्रताड़ित किए जाने के बाद उसे जिंदा जला कर उसकी हत्या कर दी गई.

20 वर्षीय इस महिला का नाम केपारी लेनियाता था और इन पर आरोप था कि उन्होंने एक जवान बच्चे पर जादू-टोना किया.

इस महिला के कपड़े उतारे गए, जिसके बाद उनके हाथ-पैर बांध दिए गए. बच्चे के रिश्तेदारों ने उन पर पेट्रोल छिड़का और सैंकड़ों लोगों के सामने उन्हें आग में फेंक दिया.

स्थानीय मीडिया के मुताबिक अग्निशमक सेवाएं और पुलिस भी इस मामले में दखल नहीं दे पाईं.

तनाशबीन

स्थानीय अखबार पोस्ट कुरियर के मुताबिक पुलिस और अग्निशमक कर्मचारियों को वहां जमा भीड़ ने भगा दिया और इस भयावह हत्या को देखते रहे.

इस घटना की तस्वीरें स्थानीय अखबारों के पहले पन्ने पर छपी हैं.

स्थानीय पुलिस कमांडर सुप्त कायेग्लो अंबाने ने मीडिया को बताया कि पुलिस हत्या का मामला दर्ज करेगी और दोषियों को गिरफ्तार किया जाएगा.

पापुआ न्यू गिनी में अकसर ऐसे मामले सामने आते हैं जब किसी की मौत के लिए जादू-टोने को दोषी ठहराया जाता है.

ज़्यादातर मामलों में महिलाओं को ही दोषी ठहराया जाता है.

2009 में पापुआ न्यू गिन्या के एक उच्च अधिकारी ने कहा था कि जादू-टोने के नाम पर लोग अपने दुश्मनों की हत्या कर रहे हैं और इससे निपटने के लिए कड़े कानूनों को लागू करना होगा.

पापुआ न्यू गिनी की राजधानी पोर्ट मोरेस्बे में अमरीकी दूतावास ने इस हत्या की भर्त्सना की है और इसे एक ‘बर्बर हत्या’ बताया है.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.