BBC navigation

अमरीका: एक और स्कूली हमले की योजना में छात्र गिरफ्तार

 रविवार, 16 दिसंबर, 2012 को 02:46 IST तक के समाचार
स्कूल में गोलीबारी

राष्ट्रपति ओबामा ने गोलीबारी पर दुख जताया है

अमरीका में एक तरफ जहां पुलिस कनेक्टीकट राज्य के एक स्कूल में हुई गोलीबारी के पीछे के कारणों को तलाशने में जुटी है वहीं ओक्लाहोमा राज्य में एक छात्र को अपने स्कूल में बम रखने और गोलीबारी करने की योजना बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

इस 18 वर्षीय छात्र का नाम सैम ईगलबीयर चावेज है और उस पर बार्टेल्सविले में अपने स्कूल में बम रखने और छात्रों को गोली से उड़ाने की योजना बनाने के आरोप तय किए गए हैं.

गिरफ्तारी हलफनामे में कहा गया है कि चावेज ने अपनी इस योजना में अन्य छात्रों को शामिल करने की भी कोशिश की.

स्थानीय मीडिया की रिपोर्टों के अनुसार चावेज ने अपनी मदद न करने वाले छात्रों को जान से मारने की धमकी भी दी. वो बम रखने की योजना बना रहा था कि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

भीषण गोलीबारी

ये गिरफ्तारी ऐसे समय में हुई जब शुक्रवार को 20 वर्षीय एक बंदूकधारी ने कनेक्टीकट प्रांत के न्यूटाउन शहर के एक स्कूल में 20 बच्चों और छह वयस्कों की गोलीमार कर हत्या कर दी. पुलिस का कहना है कि हमलावर मौके पर ही मारा गया.

पुलिस के अनुसार उन्हें कुछ ऐसे सबूत मिले हैं जिनसे इस भीषण गोलीबारी के पीछे मकसद का पता लगाने में मदद मिल सकती है.

चश्मदीदों का कहना है कि हमलावर एडम लांजा ने बच्चों पर गोलियां चलाते हुए और खुद को मारने से पहले कुछ नहीं कहा था.

सैंडी हुक एलेमेंट्री स्कूल में हुई इस घटना में मारे गए लोगों की पहचान कर ली गई है लेकिन उनके नाम जारी किए जाने अभी बाकी हैं.

इस घटना के बाद सरकारी इमारतों पर अमरीकी झंडे आधे ही फहराए गए.

हाल के दिनों में अमरीका में बढ़ती गोलीबारी की घटनाओं को देखते हुए राष्ट्रपति बराक ओबामा समेत कई राजनेताओं ने देश के हथियार रखने संबंधी क़ानून में बदलाव की वकालत की है ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोका जा सके.

लांज़ा ने 27 लोगों को गोली मारने से पहले अपनी मां को भी मार डाला था और ये सब कुछ ही मिनटों में हुआ था.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.