बहस में पिछड़ने के बाद आक्रामक हुए ओबामा

 शुक्रवार, 5 अक्तूबर, 2012 को 10:46 IST तक के समाचार

बहस से पहले ओबामा अपने प्रतिद्वंद्वी मिट रोमनी से थोड़े से ही आगे चल रहे थे

बुधवार को टेलीविजन पर हुई बहस में सर्वेक्षणों में राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार मिट रोमनी को बराक ओबामा से आगे बताया जा रहा है. इसके बाद से ही ओबामा ने रोमनी पर आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है.

गुरुवार को अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने मिट रोमनी पर बेईमान होने का आरोप लगाया.

बुधवार को टेलीविजन पर हुई बहस में माना जा रहा है कि उनके रिपब्लिकन प्रतिद्वंद्वी मिट रोमनी चुनावी दौड़ में उनसे आगे निकल गए हैं.

कोलोरेडो राज्य के डेनेवर में एक जनसभा में ओबामा ने मिट रोमनी से अपनी नीतियों के बारे में सच बताने की अपील की.

नील्सन टीवी रेटिंग एजेंसी के मुताबिक बुधवार को हुई इस बहस को करीब चार करोड़ लोगों ने टेलीविजन पर देखा.

रणनीति में बदलाव

ओबामा के चुनाव का प्रचार कार्य देख रहे लोगों का कहना है कि छह नवंबर को चुनाव से पहले प्रचार की रणनीति में कुछ बदलाव किया जाएगा.

कुछ सर्वेक्षणों में कहा गया है कि इस पहली टेलीविजन बहस में रोमनी ने ओबामा पर बढ़त बना ली है.

"बुधवार को बहस के दौरान मंच पर मौजूद व्यक्ति रोमनी नहीं हो सकता था, क्योंकि वास्तविक रोमनी पिछले एक साल से देश भर में इस वादे के साथ घूम रहा है कि वो पांच खरब डॉलर की कर कटौती करेगा जो कि अमीरों को फायदा पहुंचाने वाला कदम है"

बराक ओबामा, अमरीका के राष्ट्रपति

सर्वेक्षण के मुताबिक अर्थव्यवस्था में सुधार, रोजगार सृजन और वित्तीय घाटे के प्रबंधन संबंधी रोमनी के विचारों ने लोगों को काफी प्रभावित किया.

गुरुवार को अपने करीब 12 हजार समर्थकों को संबोधित करते हुए बराक ओबामा ने कहा, “जब मैं मंच पर पहुंचा तो मेरी मुलाकात इस जोशीले व्यक्ति से हुई, जिसका दावा था कि वो मिट रोमनी है.”

ओबामा का आगे कहना था, “लेकिन ये व्यक्ति रोमनी नहीं हो सकता था क्योंकि वास्तविक रोमनी पिछले एक साल से देश भर में इस वादे के साथ घूम रहा है कि वो पांच खरब डॉलर की कर कटौती करेगा जो कि अमीरों को फायदा पहुंचाने वाला कदम है.”

ओबामा का कहना था कि गवर्नर रोमनी अपने प्रदर्शन पर खुश हो सकते हैं लेकिन यदि वो अमरीका का राष्ट्रपति बनना चाहते हैं तो उन्हें अमरीकी जनता को सच बताना होगा.

ऐसी ही बातें ओबामा ने बाद में विस्कोंसिन-मैडिसन विश्वविद्यालय में भी करीब तीस हजार लोगों की भीड़ के सामने कहीं.

रोमनी ने बुधवार को टीवी पर बहस के दौरान पांच खरब डॉलर की कर कटौती संबंधी बातों से साफ इंकार किया था.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.