BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
  
मित्र को भेजें कहानी छापें
गोपनीयता की नीति

बीबीसी वेबसाइट के इस्तेमाल के दौरान हम आपसे कुछ निजी जानकारी माँग सकते हैं. ऐसी जानकारी पर हमारी नीति समझने के लिए इस पन्ने को पूरा पढ़ें.

1. उद्देश्य

बीबीसी की विभिन्न वेबसाइट के इस्तेमाल के दौरान हम समय समय पर आपसे कुछ निजी जानकारी माँग सकते हैं. इनमें आपका नाम, पता, ई-मेल आदि से जुड़े सवाल हो सकते हैं. इस जानकारी का इस्तेमाल आपकी रुचि के समाचार, ई-मेल एलर्ट, प्रतियोगिताएँ, लाईव चैट, मैसेज बोर्ड और BBCi की सदस्यता से जुड़े संदेश भेजने के लिए किया जाएगा.

पहले निर्धारित स्थान पर आपको अपने विषय में जानकारी देनी होगी. उसके बाद बीबीसी और इसको सेवाएं देने वाली संस्थाओं की उन सुविधाओं का लाभ आप उठा पाएँगे जिनका चयन आपने किया होगा. आपके द्वारा दी गई जानकारी का उपयोग हम इस नीति के तहत करेंगे. हमारी सेवा आपको वह सब सूचनाएँ प्रदान करने के लिए हैं जो आप पाना चाहते हैं. बीबीसी मौजूदा क़ानूनों के तहत काम करती है और इसका उद्देश्य इंटरनेट की सर्वश्रेष्ठ सेवा उपलब्ध कराना है.

2. वेबसाइट पर आने वालों की जानकारी

जब आप बीबीसी की किसी साइट पर आते हैं और अपनी रुचि के हिसाब के पन्ने पढ़ते हैं तो ये पन्ने और एक कुकी आपके कंप्यूटर पर डाउनलोड हो जाता है (कुकी के बारे में ज़्यादा जानकारी आगे दी गई है). इस प्रक्रिया का इस्तेमाल ज़्यादातर वेबसाइट पर होता है और इसका उद्देश्य ये जानना है कि वेबसाइट इस्तेमाल करनेवाला व्यक्ति क्या वहाँ पहले भी आया है. जब आप दूसरी बार या अगली बार साइट पर आते हैं तो कुकी आपका नाम याद रखता है.

कुकी हमें जो जानकारी प्रदान करता है उससे हमें अपनी सेवा को बेहतर बनाने में मदद तो मिलती ही है साथ ही हम अपने पाठकों की रुचियों के बारे में जानकारी हासिल कर पाते हैं. उदाहरण के तौर यदि आप हमारी वेबसाइट में खेल-समाचारों को पढ़ते हैं तो कुकी हमें इसकी जानकारी दे देता है. इसके बाद हमारी वेबसाइट पर आने पर आपको खेल जगत की ताज़ा तरीन कहानियाँ पेश की जा सकती हैं.

रेडशेरिफ़ एक स्वतंत्र शोध कंपनी है. यह कंपनी इसी कुकी और कोड के सहारे हमारे लिए पाठकों की रुचि के बारे में आकलन करती है. यह आकलन व्यक्तिगत नहीं होता. लेकिन इससे जो आंकड़े हमें मिलते हैं उससे पता चलता है कि पाठक किस पन्ने पर कितना समय गुज़ारते हैं, क्या पढ़ना पसंद करते हैं, वे किस तरह इन पन्नों तक पहुँचते हैं और किस स्क्रीन या ऑपरेटिंग सिस्टम का इस्तेमाल करते हैं. ये जानकारी बीबीसी को अपने के लिए सुविधाओं और सेवाओं को और बेहतर बनाने में सहायता मिलती है.

यदि आप नहीं चाहते कि रेडशेरिफ़ आपके बारे में कुकी से जानकारी हासिल करे तो आगे बिंदु

क्रमांक सात में दी गई जानकारी के आधार पर इससे बच सकते हैं. कोड को काम करने से रोकने के लिए आपको रेडशेरिफ़ की गोपनीयता की नीति के बारे में जानना होगा. यह जानकारी privacy@redsheriff.com पर उपलब्ध है. इसके अलावा http://www.redsheriff.com/6.0.0.htm पर रेडशेरिफ़ की गोपनीयता की नीति का पूरा विवरण प्राप्त किया जा सकता है.

3. क्या है कुकी?

जब आप बेवसाइट पर आते हैं तो आपका कंप्यूटर अपने आप एक कुकी का उपयोग करता है. कुकी दरअसल टेक्स्ट फाइल होती है जिसे आपसे आपका कंप्यूटर हमारे सर्वर को याद रखता है. कुकी अपने आप में किसी यूज़र को नहीं पहचानता, वह सिर्फ़ कंप्यूटर को जानता है. ज़्यादातर साइट इसका उपयोग करते हैं ताकि इस बात की जानकारी मिल सके कि कितने लोगों ने उनकी साइट देखी.

कुकी का काम सिर्फ़ यह जानकारी देना है कि आप किन पन्नों पर जा रहे हैं और वहाँ कितनी देर ठहरते हैं. कंप्यूटर में यह सुविधा होती है कि आप उसे सेट कर दें तो वह सारे कुकीज़ को याद रखे या फिर एक भी कुकी को दर्ज़ न करे. यदि आप यह विकल्प चुनते हैं कि कुकी दर्ज़ ही न हो तो कई व्यक्तिगत सुविधाएँ आपको नहीं मिल पातीं.

याद रहे कि यदि आपने अपने कंप्यूटर पर कुकी को नकारने की सेटिंग नहीं की है तो भी आप एक अनजान पाठक की तरह हमारी वेबसाइट पर आ सकते हैं बशर्ते आपका नाम बीबीसी हिंदी के पाठक के रुप में दर्ज़ न हो.

4. आपकी व्यक्तिगत जानकारी का उपयोग

जब आप बीबीसी कि किसी वेबसाइट की सदस्यता या किसी प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए हमें अपने बारे में जानकारी देते हैं तो तो इसके उपयोग को लेकर आपके प्रति हमारी क़ानूनी ज़िम्मेदारी भी होती है. मसलन ये कि हम जानकारियाँ ईमानदारी से एकत्रित करें, इसका अर्थ यह है कि जानकारी देने से पहले हम आपको बता दें कि इसका उपयोग हम कहाँ और किस तरह करने वाले हैं. अपने बारे में दी गई जानकारी को यदि हम किसी और को देने वाले हैं तो हमें इसकी भी सूचना आपको देनी चाहिए.

साधारण रुप से आप जो जानकारी हमें देते हैं उसका उपयोग बीबीसी और उनके सर्विस प्रोवाइडर ही करते हैं. आपके द्वारा दी गई जानकारी को बीबीसी के बाहर किसी को भी हम तब तक नहीं देते जब तक इसके लिए हमने आपकी सहमति न ले ली हो या इसे ज़ाहिर करने की कोई क़ानूनी बाध्यता न हो.

यदि कोई व्यक्ति बीबीसी हिंदी को कोई आपत्तिजनक या अनुचित सामग्री भेजता है या बीबीसी हिंदी को नुक़सान पहुँचाने वाला व्यवहार करता है और यदि बीबीसी को ये कोशिशें गंभीर लगती हैं तो इसे रोकने के लिए बीबीसी उपलब्ध जानकारी का उपयोग कर सकती है. इसमें उस व्यक्ति के व्यवहार के बारे में नियोक्ता या स्कूल या फिर ई-मेल प्रोवाइडर को सूचित करना भी शामिल हो सकता है.

आपके द्वारा दी गई सूचना को हम अपने सिस्टम में तब तक रखते हैं जब तक आपने हमारी सेवाओं के लिए अनुरोध किया है या फिर तब तक जब तक आप बीबीसी हिंदी के सदस्य रहना चाहते हैं. हालांकि सुरक्षा की दृष्टि से बीबीसी किसी भी व्यक्ति का नाम, उसके द्वारा भेजा गया मैसेज और मैसेज की तारीख़ और समय आदि की जानकारी छह महीने तक सुरक्षित रख सकती है. जब किसी व्यक्ति ने बीबीसी हिंदी के सदस्य के रुप में ख़ुद को दर्ज़ न किया हो और दूसरे कारणों से बीबीसी की साइट पर आकर अपने बारे में जानकारी दी हो, मसलन, प्रतियोगिता आदि, तो फिर वह जानकारी तभी तक रखी जाएगी जब तक इसे रखा जाना ज़रुरी हो. हम यह सुनिश्चित करते हैं कि हर व्यक्तिगत जानकारी को 'डाटा प्रोटेक्शन एक्ट 1998' के तहत सुरक्षित रखा जाए.

यदि बीबीसी की साइट पर यह लिखा गया हो कि आपके द्वारा दी गई सूचना का उपयोग सर्विस एडमिनिस्ट्रेशन की दृष्टि से किया जा सकता है तो इसका अर्थ है कि बीबीसी आपसे उन सेवाओं से जुड़े अनेक कारणों से संपर्क कर सकती है, जिनका लाभ आप उठा रहे हों. उदाहरण के तौर पर हम आपको यह सूचना दे सकते हैं कि आपके पासवर्ड की अवधि ख़त्म हो रही है और आपको उसे बदल लेना चाहिए. या फिर यह कि कोई सेवा मेंटेनेंस के लिए लंबित है. बीबीसी से जुड़े अन्य उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए हम आपसे कतई संपर्क नहीं करेंगे, या अपनी सेवाओं में हुए सुधार आदि की जानकारी भी आपको नहीं भेजेंगे जब तक कि आपने रजिस्ट्रेशन के समय इस तरह की सूचना पाने की इच्छा प्रकट न की हो.

5. आपकी व्यक्तिगत सूचना तक पहुँचना

बीबीसी के पास आपसे जुड़ी जो भी जानकारी उपलब्ध है आप उसे बीबीसी से माँग सकते हैं या फिर उसमें आवश्यक सुधार करने को कह सकते हैं. (हम ऐसी सुविधा प्रदान करने के लिए 10 पाउंड या सात सौ पचास रुपए का शुल्क लेते हैं.) यदि आपको ऐसी किसी सूचना की आवश्यकता हो तो Data Protection Officer, Room 315, Brock House, 19, Langham Street, London, W1A 1AA पर संपर्क कीजिए या फिर dpa.officer@bbc.co.uk पर ई-मेल भेजें.

6. सोलह साल से कम उम्र के उपयोगकर्ता

यदि आपकी उम्र 16 वर्ष या उससे कम है तो बीबीसी को अपने बारे में कोई भी जानकारी भेजने से पहले कृपया अपने माता पिता या पालक की सहमति ज़रुर भेजें. इस सहमति के बिना आपको हमे व्यक्तिगत जानकारी देने की अनुमति नहीं है.

7. कुकी को ढूढ़ने और उस पर नियंत्रण का उपाय

यदि आप Netscape 6.0 का उपयोग कर रहे हैं तो अपने टास्क बार पर

1. Edit पर क्लिक करें

2. फिर Preferences

3. और Advanced

4. और अंत में Cookie पर क्लिक करें

यदि आप Internet Explorer 6.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

1. पहले Tools चुनें

2. Internet Options का विकल्प चुने

3. Privacy Tab पर क्लिक करें

4. Custom Level पर क्लिक करें

5. Advanced Options पर जाएँ

6. 'Override automatic cookie handling' बॉक्स पर जाएँ और 'Accept, Block or Prompt' का विकल्प चुनें

यदि आप Internet Explorer 5.0 या 5.5 का उपयोग कर रहे हैं तो

1. पहले Tools चुनें

2. Internet Options पर जाएँ

3. Security Tab पर क्लिक करें

4. Custom Level पर क्लिक करें

5. नीचे छठे विकल्प पर जाएँ और देखें कि IE5 से किस तरह कुकी को नियंत्रित किया जाता है. अब 'Accept, Block or Prompt' को क्लिक करें.

यदि आप Netscape Communicator 4.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

1. Edit दबाएँ

2. Preferences पर जाएँ

3. Advanced पर क्लिक करें

4. जिस बॉक्स पर Cookie लिखा हो उस पर क्लिक करके अपनी पसंद का विकल्प चुनें.

8. जिन साइटों पर आप जाते हैं वे कुकी का उपयोग करते हैं या नहीं?

यदि आप Netscape 6.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

1. Edit पर क्लिक करें

2. फिर Preferences पर जाएँ

3. Advanced पर क्लिक करें

4. Cookie पर क्लिक करें

5. View Cookies के विकल्प पर क्लिक करें

यदि आप Internet Explorer 5.0 या 6.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

1. Tools चुनें

2. Internet Options पर जाएँ

3. General Tab पर क्लिक करें

4. Settings को क्लिक करें

5. View Files पर क्लिक करें

यदि आप Netscape Communicator 4.0 का उपयोग कर रहे हैं तो

नेटस्केप आपकी सारी कुकी को आपके हार्ड ड्राइव में एक साथ रखता है. अगर आपको यह फ़ाइल ढूँढ़नी है तो इसे विंडोज़ मशीन पर cookie.txt के नाम से ढ़ूँढ़ा जा सकता है.

9. आपके कुकी कोड की तलाश

कुकी पर क्लिक करें. आपको एक टेक्स्ट स्ट्रीप दिखाई देगी जिसमें एक नंबर होगा. यह नंबर आपका आइडेंटीटीफ़िकेशन कार्ड है जिसे सिर्फ़ वही सर्वर देख सकता है जिसने उसे जारी किया है.

 
 
सुर्ख़ियो में
 
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>