BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
शुक्रवार, 17 अप्रैल, 2009 को 02:07 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
पहले चरण में 60 फ़ीसदी मतदान
 
मतदान
पहले चरण में 17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 124 सीटों पर मतदान हुआ

लोक सभा चुनाव के पहले चरण में देश के 15 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों की 124 सीटों पर गुरुवार को हुए मतदान के दौरान लगभग 60 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

मतदान की समय सीमा ख़त्म होने के बाद दिल्ली में आयोजित पत्रकारवार्ता में उपचुनाव आयुक्त आर बालाकृष्णन ने बताया कि अभी जो आंकड़े मिले हैं, वे शुरूआती हैं.

पहले चरण में मतदान करने वाले लोगों की सही संख्या का पता शुक्रवार सुबह तक ही चल पाएगा.

चुनाव आयोग के अनुसार आंध्र प्रदेश में 65 प्रतिशत, बिहार में 46, अरुणाचल प्रदेश में 62, महाराष्ट्र में 54, उड़ीसा में 53, उत्तर प्रदेश में 48 से 50, छत्तीसगढ़ में 51, झारखंड में 50, नगालैंड में 84, जम्मू-कश्मीर में 48 प्रतिशत, अंडमान निकोबार में 61 फ़ीसदी मतदान हुआ.

मतदान
कई क्षेत्रों में मतदान के लिए लंबी लाइनें लगीं थीं

बालाकृष्णन ने बताया कि शुरुआती आंकड़ों के मुताबिक सबसे कम मतदान 46 फ़ीसदी बिहार में और सबसे अधिक 86 फ़ीसदी लक्ष्यद्वीप में हुआ.

उपचुनाव आयुक्त ने बताया कि नक्सलवादी प्रभावित इलाक़ों को छोड़कर अन्य हिस्सों में मतदान शांतिपूर्ण रहा.

झारखंड, छत्तीसगढ़ और बिहार में हुए पहले चरण के मतदान में कई जगह हुई हिंसक घटनाओं में 18 लोग मारे गए.

उड़ीसा में नक्सलियों ने हमले कर कई स्थानों पर इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीनों में आग लगा दी और वहाँ गुरुवार देर रात तक मुठभेड़ चल रही थी.

पूर्वांचल में मतदान

बीबीसी संवाददाता पाणिनी आनंद उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल में मतदान पर नज़र रखे हुए थे.

उत्तर प्रदेश में बनारस, आज़मगढ़, घोसी, मछलीशहर, गोरखपुर, कुशीनगर, महाराजगंज सहित पूर्वांचल की 16 लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला वोटिंग मशीनों में बंद हो गया.

महावीर प्रसाद, मुरली मनोहर जोशी, आदित्यनाथ, नीरज शेखर, अक़बर अहमद डंपी, मुख़्तार अंसारी, सुधा राय जैसे कई बड़े नेता इस चुनावी दंगल में आमने सामने थे.

बनारस में सुबह सात बजे से शुरू हुए मतदान में पहले वोट धीमी गति से पड़े पर नौ बजे के आसपास लोग घरों से निकलते नज़र आए. महिलाओं ने बढ़-चढ़कर मतदान में हिस्सा लिया.

वाराणसी में मतदान
पूर्वी उत्तर प्रदेश में मतदान ने बाद में रफ़्तार पकड़ी

बनारस में मतदान का प्रतिशत आधी आबादी के आकड़े तक भी नहीं पहुँच सका. पर राज्य प्रशासन इसलिए चैन की सांस ले पा रहा है क्योंकि गोरखपुर में छिटपुट झड़पों के अलावा किसी अन्य लोकसभा सीट से अभी तक किसी अप्रिय घटना या हिंसा की ख़बर नहीं है.

मछलीशहर लोकसभा में आने वाले बनारस की पिण्डरा विधानसभा के खतौरा गांव में मतदाताओं ने चुनाव का बहिष्कार किया पर जिलाधिकारी बनारस ने बीबीसी को बताया कि ऐसा प्रत्याशियों से असंतुष्ट होने के कारण हुआ न कि किसी बाहरी दबाव या धमकी की वजह से.

कुछ जगहों पर प्रशासन और लोगों के बीच मतदाता सूची में कमियों को लेकर बहसें, शिकायतें भी होती दिखीं.

इसबार मुस्लिम मतदाताओं के मन को भांप पाना न तो नेताओं के लिए आसान था और न मीडियाकर्मियों, चुनाव विश्लेषकों के लिए. दिखाई यही देता रहा कि मुस्लिम मतदाता बंटा हुआ है.

सोनभद्र, चंदौली और मिर्ज़ापुर ज़िलों के नक्सल प्रभावित होने के कारण और पूर्वी उत्तर प्रदेश के बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़ की सीमाओं से लगे होने की वजह से भारी तादाद में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई थी. क्षेत्र से लगी भारत नेपाल सीमा को भी सील कर दिया गया था.

राज्य प्रशासन के मुताबिक पहले चरण के मतदान के लिए 95 कंपनी केंद्रीय सुरक्षा बलों, 78 कंपनी पीएसी, लगभग 70 हज़ार होमगार्डों और क़रीब 50 हज़ार सिपाहियों को तैनात किया गया.

भारी सरकारी तामझाम, कड़े सुरक्षा बंदोबस्तों और इन सबके बीच मुद्दों, जातीय और सांप्रदायिक समीकरणों, राष्ट्रीय और स्थानीय सवालों में उलझे मतदाता ने अगली संसद की नियति को निर्धारित कर दिया है.

झारखंड में हिंसा

बीबीसी संवाददाता सलमान रावी ने राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजीव कुमार के हवाले से बताया कि झारखंड में चुनावी हिंसा में 10 लोगों के मारे गए हैं.

कई जगहों पर ख़ासा उत्साह
मतदान के बीच कई जगह नक्सलवादी हिंसा हुई

इनमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ़) के छह जवान और दो आम लोग शामिल है.

राजीव कुमार ने बताया कि लोहरदगा लोकसभा क्षेत्र के विशुनपुरा और चतरा लोकसभा क्षेत्र के हाता मतदान केंद्र से आठ चुनावकर्मी लापता हैं.

पुलिस के अनुसार झारखंड के खूंटी लोकसभा क्षेत्र के रनिया इलाक़े में एक सुरक्षाकर्मी लापता है.

छत्तीसगढ़ का हाल

बीबीसी संवाददाता फ़ैसल मोहम्मद अली के अनुसार छत्तीसगढ़ के पुलिस उपमहानिरीक्षक पवन देव ने बताया कि राजनांदगांव ज़िले में माओवादियों ने चुनाव दल की एक गाड़ी को बारूदी सुरंग से उड़ा दिया. इसमें पाँच सुरक्षाकर्मी मारे गए.

दंतेवाड़ा में माओवादी हमले में सीआरपीएफ़ का एक जवान मारा गया और छह घायल हो गए. दंतेवाड़ा में भी सीआरपीएफ़ के दो जवान मारे गए.

राज्य के नक्सल प्रभावित बस्तर इलाक़े से 14 ईवीएम के लूटे जाने और 20 से अधिक जगहों पर पुलिस के साथ नक्सलवादियों की मुठभेड़ होने की ख़बर है.

बिहार में हिंसा

बिहार से बीबीसी संवाददाता मणिकांत ठाकुर ने बताया कि गया में बांकेपुर थाना क्षेत्र में माओवादियों ने हमला कर एक पुलिसकर्मी और एक होमगार्ड की हत्या कर दी.

बिहार पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि संवेदनशील क्षेत्रों में बारूदी सुरंगरोधी 50 गाड़ियाँ लगाई थीं और निगरानी रखने के लिए हेलिकॉप्टरों की मदद ली गई थी.

गुरुवार को ही आंध्र प्रदेश और उड़ीसा में विधानसभा चुनावों के लिए भी मतदान हुआ.

आंध्र प्रदेश

बीबीसी संवाददाता उमर फ़ारूक़ के अनुसार आंध्र प्रदेश की 294 में से 154 विधानसभा सीटों और उड़ीसा की 147 में से 70 विधानसभा सीटों के लिए पहले चरण में वोट डाले गए.

चुनाव के समाप्त हो जाने के बाद भी कई मतदान केंद्रों पर लंबी-लंबी क़तारें देखी गई जिसके कारण मतदान के समय को बढ़ाया गया.

भाग्य बंद

इस चरण में जिन बड़े नेताओं के भाग्य का फ़ैसला होना है उनमें राष्ट्रीय जनता दल नेता लालू प्रसाद यादव और भारतीय जनता पार्टी के मुरली मनोहर जोशी शामिल हैं.

तेलंगाना राष्ट्र समिति चंद्रशेकर राव, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, अभिनेत्री विजयाशांति, एनटीआर की पुत्री डी पुरंदेश्वरी और पूर्व केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय के नाम भी उन नेताओं की सूची में शामिल हैं जिनके चुनाव क्षेत्रों में इसी चरण में मतदान हुआ है.

पहले चरण में केरल की सभी 20 सीटों, छत्तीसगढ़ की 11 और मेघालय तथा अरुणाचल की दो-दो सीटों के लिए मतदान हुआ.

बिहार की 40 में से 13, उत्तर प्रदेश की 80 में से 16, महाराष्ट्र की 48 में से 13, आंध्र प्रदेश की 42 में से 22, झारखंड की 14 में से छह और उड़ीसा की 21 में से 10 सीटों के लिए भी मतदान हुआ.

पूर्वोत्तर में असम की 14 में से तीन और मणिपुर की दो में से एक सीट के लिए वोट डाले गए.

भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर की छह में से एक सीट के लिए भी मतदान हुआ.

पहले चरण में अंडमान निकोबार, लक्षद्वीप, मिजोरम और नगालैंड की एक-एक लोकसभा सीट के लिए भी वोट डाले गए.

 
 
चुनावः 2009 चुनावः 2009
आम चुनाव पर विशेष सामग्री के लिए बीबीसी हिंदी की माइक्रोसाइट देखिए.
 
 
पार्टियों के घोषणा पत्र दावे और वादे..
कांग्रेस और भाजपा के घोषणा पत्रों में किए गए दावों-वादों का आकलन.
 
 
मिथक चुनाव के मिथक
भारत के चुनावों के बारे में कई मिथक प्रचलित हैं. कितनी सच्चाई है इनमें..
 
 
नरेंद्र मोदी 'बूढ़िया' नहीं गुड़िया'
नरेंद्र मोदी के अनुसार वे कांग्रेस पार्टी 'बूढ़िया' नहीं बल्कि 'गुड़िया' कहेंगे.
 
 
पूर्वांचल में चुनाव प्रचार पूर्वांचल में चुनाव
राजनीतिक रूप से परिपक्व पूर्वांचल में विकास नहीं बन पाया चुनाव प्रचार में मुद्दा.
 
 
रैली यूपी का गणित
यूपी के पहले चरण के चुनावों का गणित बता रहे हैं रामदत्त त्रिपाठी.
 
 
योगी आदित्यनाथ योगी का आकलन
योगी आदित्यनाथ का मानना है कि पूर्वांचल में भाजपा का प्रदर्शन सुधरेगा.
 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
पहले चरण का प्रचार समाप्त
14 अप्रैल, 2009 | चुनाव 2009
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>