BBC navigation

मणिपुर में नहीं रिलीज़ होगी 'मैरी कॉम'

 गुरुवार, 4 सितंबर, 2014 को 17:57 IST तक के समाचार
फ़िल्म मैरी कॉम

ओलंपिक मेडल जीतने वाली भारत की पहली महिला बॉक्सर मैरी कॉम के संघर्षों पर बनी फ़िल्म बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा के कारण काफ़ी चर्चा में है, लेकिन यह फ़िल्म मणिपुर में ही नहीं दिखाई जाएगी.

पांच सितंबर को पूरे भारत में यह फ़िल्म रिलीज़ हो रही है लेकिन मणिपुर में ये फ़िल्म नहीं देखी जा सकेगी क्योंकि मणिपुर में हिन्दी फ़िल्मों पर प्रतिबंध है.

हालांकि मैरी कॉम के प्रशंसक इस फ़िल्म को इंटरनेट और सीडी आदि पर इसे देख सकते हैं.

हालांकि मणिपुर के लोगों को लगता है कि एक इस फ़िल्म में भी भेदभाव नज़र आता है क्योंकि इस फ़िल्म में मैरी कॉम की केंद्रीय भूमिका में पूर्वोत्तर की किसी अभिनेत्री को नहीं लिया गया है.

मणिपुर से आने वाली सनी तायेंग कहती हैं, ''प्रियंका चोपड़ा का मेकअप करके उन्हें मैरी कॉम का लुक दिया गया, लेकिन मणिपुर में क्या अभिनेत्रियों की कमी है? असल में बॉलीवुड में मणिपुरी अभिनेत्रियों को मौक़ा नहीं दिया जाता.''

डायरेक्टर की पसंद

मणिपुरी युवतियां

हालांकि दयावती कहती हैं, 'प्रियंका चोपड़ा इनती बड़ी स्टार हैं कि अगर कोई मणिपुरी अभिनेत्री चुनी जाती तो फ़िल्म को इतना प्रचार नहीं मिलता. अगर मैं भी फ़िल्म निर्देशक होती तो प्रियंका को ही कास्ट करती. हर डॉयरेक्टर की अपनी पसंद होती है.''

दिल्ली में पढ़ाई कर रहे डैनियल का कहना है, ''मणिपुर में भी फिल्म को रिलीज़ होनी चाहिए, क्योंकि ये फिल्म यहीं के एक महिला बॉक्सर पर बनी है. वहां भी लोग इस फ़िल्म को देखना चहाते हैं.''

दियाना का कहती हैं, ''अंदरुनी राजनीति के कारण यह फ़िल्म राज्य में रिलीज़ नहीं हो पा रही है, लेकिन इसे दिखाने के लिए कोई ख़ास प्रबंध होने चाहिए.''

(राय देने वाले युवक-युवतियों के नाम बदल दिए गए हैं.)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें यहां क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.