सुंदरवन की डरावनी दास्तान

13 जून 2014 अतिम अपडेट 10:20 IST पर

बंगाल के सुंदरवन का नाम भले ही सुहाना लगता है, लेकिन यहां के बाशिंदों के लिए ये एक डरावनी दास्तान बनकर रह गया है. आख़िर ऐसा क्यों है?
सुंदर वन
भारत के राज्य पश्चिम बंगाल में स्थित सुंदरवन 54 छोटे द्वीपों का समूह है. सुंदरवन आदमख़ोर बाघों की धरती है, जहां हर साल दर्जनों लोग बाघों का शिकार बनते हैं. स्थानीय लोगों का कहना है कि ये हमले लगातार बढ़ रहे हैं.
सुंदर वन
ये डेल्टा सदाबहार वनों और विशाल खारे दलदल से भरे हैं. इस दलदली जंगल में ऊंची-नीची संकरी खाड़ी हैं. इस तस्वीर में एक नाविक अपनी नाव चला रहा है.
सुंदर वन
विशेषज्ञों का कहना है कि जलवायु परिवर्तन के कारण यहां मनुष्यों और बाघों के नज़दीक आने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. ऐसे में लोगों पर बाघों के हमले बढ़ रहे हैं.
सुंदर वन
मछुआरे, शहद बटोरने वाले और शिकारी जो अकसर जंगल में भीतर तक चले जाते हैं.
सुंदर वन
शहद बटोरने वालों को जंगल में जाने से पहले वन विभाग मुखौटा देता है. वन अधिकारियों का कहना है कि बाघ अक्सर पीछे से हमला करता है और मुखौटे के जरिए उसे मूर्ख बनाया जा सकता है.
सुंदर वन
एक बांस पर फहराता हुए झंडा- जिसे झामती कहा जाता है, इसे ऐसी जगहों पर लगाया जाता है जहां बाघ के हमले की आशंका काफी अधिक होती है.
सुंदर वन
सुंदरवन में वन विभाग ने गांव वालों को रोज़गार दिया है. इसका काम गांव में बाघों को आने से रोकने के लिए जाल लगाना है.
सुंदर वन
रीता मंडल के पति श्रीनाथ को अप्रैल 2011 में बाघ ने मार दिया. आज उनके तीन बच्चों की पूरी जिम्मेदारी रीता के ऊपर ही है.
सुंदर वन
पूरे क्षेत्र में सभी गांवों की यही कहानी है. युवा विधवाएं, जिनके पतियों को इस बड़ी बिल्ली ने मार डाला. यहां ऐसी ही एक विधवा महिला खड़ी है.
सुंदर वन
स्थानीय रीति-रिवाज के मुताबिक़ पत्नियां संदूर लगाती हैं. ये एक विवाहित हिंदू महिला का चिन्ह है. यहां नर्मल ग्यान की पत्नी अंजना अपने पति के जंगल से लौट आने पर संदूर लगा रही हैं.
सुंदर वन
आधिकारिक आंकडों के मुताबिक़ सुंदरवन के जंगलों में सैकड़ों बाघ रहते हैं.
सुंदर वन
मछुआरे और शहद जमा करने वाले रॉबिन मजूमदार पर घने जंगल में बाघ ने हमला किया. वो मौत के मुंह से बचकर तो आ गए लेकिन दोबारा जंगल में जाने की हिम्मत नहीं हुई.