BBC navigation

न किसी से डरती हूं और न चुप रहूंगी: प्रियंका गांधी

 रविवार, 27 अप्रैल, 2014 को 20:40 IST तक के समाचार
प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा

रॉबर्ट वाड्रा पर भाजपा ने फिर कांग्रेस को घेरा

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी ने अपने पति रॉबर्ट वाड्रा के ख़िलाफ़ लगाए गए भाजपा के आरोपों का करारा जबाब दिया है.

भारतीय जनता पार्टी ने रविवार को एक बार फिर सवाल किया कि कांग्रेस बताए कि किस तरह रॉबर्ट बाड्रा इतने बड़े उद्योगपति बन गए.

पार्टी प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकारों ने दिल खोलकर रॉबर्ट वाड्रा को फायदे पहुंचाए हैं.

लेकिन प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपने पति के ख़िलाफ़ भारतीय जनता पार्टी के आरोपों को बौखलाहट का नतीजा बताया.

उन्होंने कहा है कि वाड्रा के ख़िलाफ़ भाजपा के आरोपों में कुछ नया नहीं है. उन्होंने कहा, "मुझे मालूम था कि चुनाव से एक दो दिन पहले इनके झूठ का सिलसिला दोहराया जाएगा. इसमें कुछ नया नहीं है."

उन्होंने कहा, "जितना ये लोग करना चाहें, करें. मैं इनसे नहीं डरती हूं. मैं किसी ने नहीं डरती हूं. मैं भारतीय जनता पार्टी की नकारात्मक और शर्मनाक राजनीति के ख़िलाफ़ बोलती रहूंगी और चुप नहीं रहूंगी."

क्लिक करें रॉबर्ट राजनीतिक कारणों से निशाने पर हैं: प्रियंका गांधी

निशाने पर वाड्रा

इससे पहले रविवार को एक प्रेस कांफ्रेस में भाजपा प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने रॉबर्ड वाड्रा को लेकर एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधा है.

उन्होंने कहा, "किस बड़े दिल से कांग्रेस की सरकारों ने उनके औद्योगिक साम्राज्य को खड़ा करने में मदद की. भाजपा सोनिया गांधी और राहुल गांधी से पूछना चाहती है कि कृपया बताएं कि विकास का रॉबर्ट वाड्रा मॉडल क्या है."

"ये एक मिसाली मामला है, जिसमें शासकीय प्रोत्साहन में किसी को ज़बरदस्त कमाई करने का मौका दिया गया और वो भी बिना किसी निवेश के, क्योंकि उसकी पहुंच और उसका रसूख बहुत ऊपर तक है."

रविशंकर प्रसाद, भाजपा नेता

कांग्रेस रॉबर्ट वाड्रा को अनुचित तरीके से फ़ायदा पहुंचाए जाने के आरोपों से इनकार करती है.

लेकिन भारतीय जनता पार्टी के कई नेता कह चुके हैं कि अगर उनकी सरकार बनी तो रॉबर्ट वाड्रा के ख़िलाफ़ जांच कराई जाएगी.

रविशंकर प्रसाद ने कहा, "हम ये अवश्य कह सकते हैं कि हरियाणा के मुख्यमंत्री और राजस्थान के मुख्यमंत्री अपनी कुर्सी को बचाने के लिए रॉबर्ट वाड्रा की सेवा करने के लिए बहुत तत्पर थे."

उन्होंने कहा, "ये एक मिसाली मामला है, जिसमें शासकीय प्रोत्साहन में किसी को ज़बरदस्त कमाई करने का मौका दिया गया और वो भी बिना किसी निवेश के, क्योंकि उसकी पहुंच और उसका रसूख बहुत ऊपर तक है."

रविशंकर ने सवाल किया कि 'अगर रॉबर्ट वाड्रा इतने ही क्षमतावान उद्यमी हैं तो उन्होंने ऐसे किसी राज्य में ज़मीन क्यों नहीं ख़रीदी जहां कांग्रेस की सरकार न हो.'

कांग्रेस का कहना है कि उन्हें राजनीतिक उद्देश्यों के लिए निशाना बनाया जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें यहां क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.