भड़काऊ भाषण: गिरिराज सिंह के ख़िलाफ़ एफ़आईआर

  • 20 अप्रैल 2014

बिहार बीजेपी के नेता गिरिराज सिंह के ख़िलाफ़ झारखंड के देवघर ज़िले के मोहनपुर थाने में भड़काऊ भाषण के मामले में एफ़आईआर दर्ज़ की गई है.

देवघर के पुलिस अधीक्षक राकेश बंसल ने बीबीसी से एफ़आईआर दर्ज किए जाने की पुष्टि की है.

झारखंड से पत्रकार नीरज सिन्हा ने बताया है कि देवघर के अनुमंडल पदाधिकारी (एसडीएम) जय ज्योति सामंत के निर्देश पर मोहनपुर के प्रखंड विकास पदाधिकारी (बीडीओ) शैलेंद्र रजत ने मोहनपुर थाने में बीजेपी नेता गिरिराज सिंह के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज करवाई है. एफ़आईआर संख्या 69/14 हैं.

गिरिराज सिंह पर जनप्रतिनिधि क़ानून की धाराएं 123 और 125 लगाई गई हैं. उन पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की तमाम धाराओं के तहत भी मामला दर्ज किया गया है.

उन्होंने अपने बयान में गाय का भी ज़िक्र किया था इसलिए उन पर बिहार प्रिजर्वेशन एंड इंपोर्टेंट ऑफ़ एनिमल्स एक्ट 1955 की धारा चार के तहत भी एफ़आईआर दर्ज की गई है.

एसडीएम जय ज्योति सामंत ने बीबीसी को बताया, "प्रशासन ने गिरिराज सिंह की चुनाव सभा की सीडी तैयार कराई थी जिसमें भड़काऊ भाषण देने के पर्याप्त साक्ष्य हैं."

पर्याप्त साक्ष्य

पुलिस का कहना है कि जाँच शुरू कर दी गई है.

गौरतलब है कि गिरिराज सिंह ने शनिवार को एक रैली में कहा था, 'जो लोग नरेंद्र मोदी को रोकना चाहते हैं, वे पाकिस्तान की ओर देख रहे हैं. आने वाले दिनों में उनके लिए भारत में कोई जगह नहीं होगी. उनके लिए बस पाकिस्तान में जगह बचेगी.'

जिस रैली में गिरिराज सिंह ने ये भाषण दिया उसमें बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी भी मौजूद थे.

गिरिराज सिंह के इस बयान की पार्टी के भीतर और बाहर जबर्दस्त आलोचना हो रही है.

सबसे पहले बिहार बीजेपी के सीनियर नेता सुशील कुमार मोदी ने इस पर अपनी चुप्पी तोड़ी. उन्होंने रविवार को ट्वीट कर कहा, 'गिरिराज का बयान गैरज़िम्मेदाराना है, बीजेपी इससे सहमत नहीं है.'

कांग्रेस प्रवक्ता मीम अफजल ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'जो लोग वोट नहीं डालेंगे, क्या उन सबको मोदीजी पाकिस्तान भेजेंगे? अगर ऐसा हुआ तो 90% लोगों को पाकिस्तान भेजना पड़ेगा.'

गिरिराज सिंह बिहार की नवादा सीट से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार