BBC navigation

केवल धर्मनिरपेक्ष उम्मीदवारों को ही वोट दें: बॉलीवुड

 बुधवार, 16 अप्रैल, 2014 को 17:51 IST तक के समाचार
बॉलीवुड

मंगलवार को मुंबई फ़िल्म उद्योग जगत की तरफ़ से भारतीय वोटरों के नाम एक अपील जारी कर के देश में बहुलतावाद और राष्ट्र की धर्मनिरपेक्ष बुनियाद के पक्ष में मतदान करने का आग्रह किया गया है.

हालांकि इस अपील में भारतीय जनता पार्टी के नेता नरेंद्र मोदी का नाम सीधे तौर पर नहीं लिया गया है लेकिन इस पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा उपाध्यक्ष मुख़्तार अब्बास नक़वी ने कहा है कि उन दलों के बारे में भी अपील में कुछ कहा जाना चाहिए था, जो छद्म धर्मनिरपेक्षता के नाम पर पिछले 60 सालों से देश में राज कर रहे हैं.

वहीं बुधवार को फ़िल्म अभिनेता सलमान ख़ान के पिता और मशहूर पटकथा लेखक सलीम ख़ान ने भाजपा नेता नरेंद्र मोदी की आधिकारिक वेबसाइट के उर्दू संस्करण का उद्घाटन किया.

यह पहला मौक़ा है जब बॉलीवुड फ़िल्म उद्योग के एक हिस्से ने आम चुनाव के दौरान अपना राजनीतिक रुख़ अख़्तियार किया है.

अपील करने वालों में व्यावसायिक सिनेमा के धुरंधरों से लेकर आर्ट सिनेमा से जुड़े लोग शामिल हैं.

यह अपील पटकथा लेखक अंजुम रजबअली की पहल पर जारी की गई है. अंजुम रजबअली मूलतः गुजरात के रहने वाले हैं.

'जिताऊ उम्मीदवारों को वोट दें'

अपील में कहा गया है, ''हमारे देश की सबसे ख़ास बात इसकी विविधता और बहुलता है. सदियों से विभिन्न धर्म और जाति के लोगों के बीच यहां भाईचारा रहा है. यह इसलिए संभव हुआ क्योंकि भारतीय समाज आवश्यक रूप से धर्मनिरपेक्ष बने रहने, साम्प्रदायिकता से घृणा करने और सद्भाव बनाए रखने को लेकर अडिग रहा है.''

इस अपील में कहा गया है, ''वक़्त की आवाज़ है कि हम अपने देश की धर्मनिरपेक्ष बुनियाद की रक्षा करें. इसमें कोई शक़ नहीं कि भ्रष्टाचार और सुसाशन महत्वपूर्ण मुद्दे हैं, लेकिन इसके प्रति सरकार के उत्तरदायित्व को लेकर हमें ज़्यादा सचेत रहना होगा.''

अपील में कहा गया है, ''हालांकि, एक बात साफ़ हैः भारत की धर्मनिरपेक्षता पर समझौता नहीं किया जा सकता. इस वक़्त भी नहीं और कभी भी नहीं.''

इसमें कहा गया है, ''उन भारतीय नागरिकों से, जो अपनी मातृभूमि से प्यार करते हैं, हम अपील करते हैं कि आप उन धर्मनिरपेक्ष दलों को मत दें, जिनके उम्मीदवारों की आपके क्षेत्र में जीतने की संभावना ज़्यादा हो.''

अपील में फ़िल्म लेखक-निर्देशक इम्तियाज़ अली, विशाल भारद्वाज, गोविंद निहलानी सईद मिर्ज़ा, ज़ोया अख़्तर, महेश भट्ट, आनंद पटवर्द्धन, कुंदन शाह, अभिनेत्री नंदिता दास, स्वरा भास्कर, गायिका शुभा मुद्गल और आर्ट फ़िल्मों से जुड़े लेखक, कलाकार, संगीताकरों का नाम है.

इसके अलावा सामाजिक कार्यकर्ता तुषार गांधी और तीस्ता सीतलवाड़ का भी नाम अपील जारी करने वालों में शामिल है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें क्लिक करें. आप हमें क्लिक करें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.