हम दिल्ली पुलिस को चेतावनी देते हैं: केजरीवाल

  • 16 जनवरी 2014
केजरीवाल
दिल्ली पुलिस पर दिल्ली सरकार के संगीन आरोप

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली पुलिस पर संगीन आरोप लगाते हुए कहा है कि दिल्ली पुलिस राज्य में अपराध को रोकने में उनकी सरकार के साथ सहयोग नहीं कर रही है.

गुरुवार को दिल्ली सचिवालय में अपने दो मंत्रियों सोमनाथ भारती और राखी बिड़ला के साथ प्रेस कॉंफ़्रेस करते हुए केजरीवाल ने कहा कि अगर दिल्ली पुलिस का रवैया मंत्रियों के साथ ऐसा है तो आम जनता के साथ कैसा होगा.

केजरीवाल ने सख़्त तेवर दिखाते हुए कहा, ''आज हम मांग नहीं कर रहे हैं, चेतावनी दे रहे हैं कि आप इन सभी एसएचओ को निलंबित कीजिए. यदि इन्हें निलंबित नहीं किया जाता तो दिल्ली की जनता चुप नहीं बैठने वाली है.''

उन्होंने आगे कहा, ''अगर आपके सामने अपराध हो रहा है तो क्या आप मांग नहीं करेंगे कि पुलिस कार्रवाई करे...यहीं से तो रेप शुरू होते हैं.''

मंत्री और पुलिस में तनातनी

केजरीवाल के कहा, ''दिल्ली पुलिस कह रही है मंत्री दख़ल दे रहे हैं...दिल्ली के मंत्री मांग कर रहे हैं कि पुलिस कार्रवाई करे तो क्या ये उनके काम के अंदर बाधा डालना है...यदि ये बाधा डालना है तो पूरी दिल्ली उनके काम में बाधा डालने वाली है.''

केजरीवाल ने कहा, ''मैं कल उप-राज्यपाल और पुलिस आयुक्त से मिल रहा हूं. मैं वहां सख़्ती से अपनी बात रखने वाला हूं...आज हम दिल्ली पुलिस को चेतावनी देते हैं.''

बुधवार की रात को क़ानून मंत्री सोमनाथ भारती और बाल और महिला विकास मंत्री राखी बिड़ला और दिल्ली पुलिस के बीच कुछ मामलों को लेकर कहासुनी हुई थी.

सोमनाथ भारती ने कहा कि दक्षिण दिल्ली के खिड़की एक्सटेंशन इलाक़े में लोग कथित तौर पर सेक्स रैकेट चलने की शिकायत उनसे कई दिनों से कर रहे हैं. गुरुवार देर रात भी शिकायत मिलने के बाद वे अपने कुछ कार्यकर्ताओं के साथ वहां पहुंचे और उन्होंने अपनी आंख़ों से उनके अनुसार कुछ ग़लत होते देखा.

भारती के अनुसार उनके बार-बार कहने के बाद भी दिल्ली पुलिस ने लोगों की तलाशी नहीं ली और उन्हें जाने दिया.

इसी तरह मंत्री राखी बिड़ला ने कहा कि एक लड़की को कथित तौर पर उनके सुसरालवालों ने जला कर मारने की कोशिश की लेकिन मंत्री के कहने पर भी दिल्ली पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की.

उधर आप सरकार को बाहर से समर्थन दे रही कांग्रेस पार्टी ने भी दिल्ली सरकार पर तीखे हमले किए हैं.

कांग्रेस का हमला

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली और विधान सभा में पार्टी के नेता हारून युसूफ़ ने संयुक्त संवाददाता सम्मेलन कर आप सरकार पर बलात्कार मामले में सुस्त रवैया अपनाने के आरोप लगाए.

लवली ने कहा, ''मुझे यक़ीन नहीं हो रहा है कि क्या यह वही केजरीवाल हैं जो निर्भया के रेप के समय हर चौराहे पर मोमबत्ती लेकर खड़े दिखते थे, और आज कह रहे हैं कि मैं सात दिन में मीटिंग करूँगा.

उन्होंने कहा, "हम न केवल मुख्यमंत्री को बल्कि होम मिनिस्टर को भी पत्र लिखेंगे कि इन मामले में ज्यादा से ज्यादा कार्रवाई हो. हम अपील करते हैं कि सीएम सारे मसले छोड़कर रेप जैसे मामलों पर ध्यान लगाएँ.''

हारून यूसुफ ने कहा, ''दिल्ली के मुख्यमंत्री के क्षेत्र में बलात्कार हुआ तो उन्होंने कहा कि एक हफ़्ते में अधिकारियों के संग मीटिंग करूँगा. और यह बहुत दुख की बात है कि क़ानून मंत्री ने कथित बलात्कार की पीड़िता का नाम ले लिया है.''

ग़ौरतलब है कि नई दिल्ली विधानसभा के पहाड़गंज थाने के अंतर्गत आने वाले इलाक़े में मंगलवार-बुधवार की रात को 51 साल की एक विदेशी महिला के साथ कथित तौर सामूहिक बलात्कार किया गया था. पुलिस ने इस मामले में अब तक दो लोगों को गिरफ़्तार किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार