BBC navigation

ऐसे बढ़ी कहानी आरुषि हत्याकांड: तलवार दंपति दोषी क़रार

 सोमवार, 25 नवंबर, 2013 को 16:56 IST तक के समाचार
ताज़ा अपडेट देखने के लिए पन्ना रिफ़्रेश करें या जावास्क्रिप्ट एनेबल करें
  1. सीबीआई की विशेष अदालत आज आरुषि तलवार और हेमराज हत्याकांड में हत्या के आरोपों का सामना कर रहे डॉक्टर राजेश तलवार और नूपुर तलवार पर फ़ैसला सुना रही है.

  2. अभियुक्त राजेश और नूपुर तलवार अदालत में हैं और अदालत परिसर में आरुषि के नाना और उनके रिश्तेदार-दोस्त भी मौजूद हैं.

  3. सीबीआई की विशेष अदालत ने आरुषि, हेमराज हत्याकांड मामले में राजेश और नूपुर तलवार को हत्या का दोषी पाया है. सज़ा कल (मंगलवार) सुनाई जाएगी. 

  4. केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने अदालत में अपनी दलीलें रखते हुए राजेश और नूपुर तलवार पर आरुषि और हेमराज की हत्या का आरोप लगाया था. इस के विपरीत दोनों ही अभियुक्तों ने अदालत में खुद को निर्दोष बताया था और दलीलें पेश की थीं.

  5. अदालत के बाहर एक वकील के अनुसार नूपुर और राजेश तलवार को आईपीसी की धारा 301, 302 और 34 के तहत दोषी पाया गया.

  6. कोर्ट के बाहर वकील ने बताया कि फ़ैसला सुनकर राजेश और नूपुर तलवार रो पड़े.

  7. जज तीन बजकर पच्चीस मिनट पर सीट पर आए और अपना फ़ैसला सुनाया. जज ने राजेश और नुपुर तलवार दोनों को ही हत्या का दोषी क़रार दिया. अब कल सज़ा सुनाई जाएगी.

  8. तलवार दंपति की वकील रेबेका जॉन ने टीवी चैनल सीएनएन-आईबीएन पर अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि वे उच्च न्यायालय में इस आदेश के ख़िलाफ़ अपील करेंगे.

  9. अदालत से बाहर एक वकील ने पत्रकारों को बताया कि राजेश तलवार को झूठा एफ़आईआर दर्ज करने का भी दोषी पाया गया.

  10. टीवी समाचार चैनलों पर ग़ाज़ियाबाद विशेष अदालत के बाहर मीडिया और वकीलों की भारी भीड़ देखी जा सकती है.

  11. रेबेका जॉन (तलवार दंपति की वकील) सीएनएन-आईबीएन से बातचीत में- "ये हम न्यायिक आदेश पढ़कर तय करेंगे कि इसमें क्या और किस-किस मुद्दे पर कोर्ट ने क्या-क्या कहा है. मैं शांति की अपील करती हूँ कि मीडिया में इतनी अफरा-तफरी नहीं होनी चाहिए. नागरिकों को अपने खिलाफ़ लगे आरोपों का सामना करने के लिए शांति से अवसर दिया जाना चाहिए."

  12. साढ़े पांच साल चली इस तफ़्तीश में कई मोड़ आए. सबसे पहले उत्तर प्रदेश पुलिस ने ही प्रेस वार्ता बुलाकर ऐलान किया था कि आरुषि तलवार और हेमराज की हत्या राजेश तलवार ने की है. उसके बाद केस सीबीआई के पास गया.

  13. बीबीसी संवाददाता विनीत खरे ग़ाज़ियाबाद में अदालत के बाहर से- दोषी पाए जाने के बाद तलवार दंपति ने रोना शुरू कर दिया. अब उन्हें ग़ाज़ियाबाद की डासना जेल में ले जाया जा रहा है.

  14. रिटार्यड जज एसएस सोढ़ी (टीवी चैनल टाइम्स नाउ पर)- ''इस मामले में तीन जाँच टीमें थीं. ये भी ध्यान रखना चाहिए कि इसी टीम ने पहले कहा था कि तलवार दंपति के ख़िलाफ़ कोई मामला ही नहीं बनता. फिर जब अदालत ने दोबारा जाँच का आदेश दिया तब ये सामने आया है. सीबीआई के पास कोई कारण नहीं है कि वे अपनी पीठ थपथपाएँ.''

  15. सरकारी पक्ष के वकील आरके सैनी- ''सुप्रीम कोर्ट को लगा कि सीबीआई की 2008 की रिपोर्ट में भी कई सबूत थे. इसलिए दोबारा जाँच हुई. सीबीआई कोर्ट ने घटनास्थल पर सीन के आधार पर और जो घटनाएँ घटी थीं, उनके आधार पर अपना फ़ैसला दिया है.''

  16. वरिष्ठ वकीलों का मानना है कि चाहे सीबीआई ने 2008 में मामला बंद करने के लिए रिपोर्ट दर्ज की लेकिन उसमें भी उसने ये बताया कि वह क्यों मानती है कि तलवार दंपति पर संदेह है. यही इस मामले में दोबारा जांच का कारण बना.

  17. तलवार दंपति के रिश्तेदार

    तलवार दंपति के रिश्तेदारों ने सीबीआई कोर्ट के फैसले को 'अन्याय' बताया है. अपनी बेटी आरुषि और नौकर हेमराज की हत्या के दोषी करार दिए गए राजेश और नूपुर तलवार के कई रिश्तेदार अदालत परिसर में मौजूद थे.

  18. आरुषि तलवार और हेमराज हत्याकांड में अब तक:

    - सीबीआई की विशेष अदालत ने आरुषि के माता-पिता को हत्या का दोषी ठहराया
    - अदालत का फ़ैसला सुनकर राजेश और नूपुर तलवार अदालत में रो पड़े
    - सीबीआई के जज श्याम लाल ने ये फ़ैसला सुनाया
    - कल यानी मंगलवार को तलवार दंपति को इस मामले में सज़ा सुनाई जाएगी
    - तलवार दंपति को इस फ़ैसले के बाद ग़ाज़ियाबाद की डासना जेल भेज दिया गया है
    - सीबीआई के वकील आर के सैनी ने फ़ैसले पर संतोष जताया है
    - तलवार दंपति की वकील रेबेका जॉन ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा है कि अब उच्च न्यायालय में अपील की जाएगी

  19. तलवार दंपति की रिश्तेदार वंदना ने बीबीसी संवाददाता विनीत खरे को बताया - ''हम स्तब्ध हैं...लेकिन हमें ऐसा अंदेशा था क्योंकि हम पूरी व्यवस्था का सामना कर रहे हैं. हम प्रोफ़ेशनल लोग हैं और हम सीबीआई की पूरी ताकत का सामना कर रहे हैं.''

  20. नूपुर तलवार

आरुषि-हेमराज हत्या: अहम बातें

25 नवंबर, 2013

16 मई 2008- दंत चिकित्सक राजेश तलवार की 14 साल की बेटी आरुषि तलवार और नौकर हेमराज की हत्या

17 मई 2008- पड़ोसी की छत से हेमराज का शव बरामद

23 मई 2008 - आरुषि के पिता राजेश तलवार गिरफ़्तार

24 मई 2008- यूपी पुलिस ने राजेश तलवार को मुख्य अभियुक्त माना

29 मई 2008- मुख्यमंत्री मायावती ने की सीबीआई जांच की सिफारिश

जून 2008- सीबीआई ने जांच शुरू कर एफ़आईआर दर्ज की

12 जुलाई 2008- सुबूतों के अभाव में राजेश तलवार रिहा

सितंबर 2008- सुबूतों के अभाव में राजेश तलवार के सहायक और दो नौकर रिहा

9 फरवरी 2009- तलवार दंपति पर हत्या का मुक़दमा दर्ज.

जनवरी 2010- राजेश और नूपुर के नार्को टेस्ट की इजाजत मिली

दिसंबर 2010- 30 महीने जांच के बाद सीबीआई ने अदालत को दी क्लोज़र रिपोर्ट

25 जनवरी 2011- नए सिरे जांच की मांग को लेकर राजेश तलवार पर कोर्ट परिसर में हमला.

12 अप्रैल 2011- नूपुर की ज़मानत पर सुनवाई से सुप्रीम कोर्ट का इनकार.

6 जनवरी 2012- सुप्रीम कोर्ट का तलवार दंपति पर मुक़दमा चलाने का आदेश

30 अप्रैल 2012- नूपुर तलवार गिरफ़्तार

जून 2012- अदालत के निर्देश पर फिर से सुनवाई शुरू

25 सितंबर 2012- नूपुर तलवार की रिहाई के आदेश

24 अप्रैल 2013- सीबीआई ने राजेश तलवार पर हत्या का आरोप लगाया

11 जून 2013- गवाहों के बयान दर्ज करने की कार्रवाई शुरू.

12 नवंबर 2013- केस में अंतिम सुनवाई

25 नवंबर 2013- फ़ैसले की तारीख़ मुकर्रर

इस चर्चा में हिस्सा लीजिए

आप इस इवेंट से संबंधित अपने विचार, फ़ोटो और वीडियो हमें भेज सकते हैं.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.