'दंगों के अभियुक्तों' का बीजेपी ने किया सम्मान

  • 21 नवंबर 2013
मुज़फ़्फ़रनगर दंगे के दौरान पुलिस

उत्तर प्रदेश के मुज़फ़्फ़रनगर में हुई सांप्रदायिक हिंसा में दंगा भड़काने के आरोपों का सामना कर रहे भारतीय जनता पार्टी के दो विधायकों को आगरा में एक रैली में सम्मानित किया गया है.

पार्टी की ओर से आगरा में रैली आयोजित हुई थी जिसे बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने भी संबोधित किया.

हालाँकि जिस समय इन विधायकों को सम्मानित किया गया मोदी वहाँ नहीं पहुँचे थे, लेकिन पार्टी के राज्य के प्रभारी अमित शाह सहित राज्य के कई प्रमुख नेता मंच पर मौजूद थे.

बीजेपी विधायक संगीत सोम और सुरेश राणा को इस रैली में पार्टी के राज्य अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने सम्मानित किया.

ये दोनों विधायक इस समय ज़मानत पर जेल से बाहर हैं.

सोम को ज़िले में हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था, लेकिन देवबंद की अदालत ने उन्हें ज़मानत पर पिछले दिनों रिहा किया है.

आरोप

उन पर आरोप था कि उन्होंने एक फ़र्ज़ी वीडियो अपलोड करके ज़िले में सांप्रदायिक तनाव को और हवा दी. इसके साथ ही उन पर भड़काऊ भाषण देने का भी आरोप है.

वहीं राणा को भी हिंसा में कथित भूमिका के लिए गिरफ़्तार किया गया.

सांप्रदायिक हिंसा में हज़ारों लोग बेघर हुए जबकि 50 से ज़्यादा लोगों की उसमें मौत हो गई थी.

इससे पहले भाजपा की ओर से कहा गया था कि राज्य की समाजवादी पार्टी सरकार ने ग़लत तरीक़े से उसके विधायकों को दंगे भड़काने के आरोप में फँसाया था.

कांग्रेस ने भाजपा के इस फ़ैसले की आलोचना करते हुए कहा है कि इससे इलाक़े में घृणा और बढ़ेगी जबकि समाजवादी पार्टी का कहना था कि ये 'भाजपा की संस्कृति' दिखाता है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहाँ क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)