मुंबई बलात्कार पर लोगों में आक्रोश

  • 23 अगस्त 2013
ट्वीटर
मुंबई में हुए कथित बलात्कार के बाद ट्वीटर पर तीव्र आक्रोश व्यक्त किया जा रहा है.

गुरुवार रात सेंट्रल मुंबई के परेल इलाके में पांच व्यक्तियों द्वारा एक महिला फोटो पत्रकार के कथित बलात्कार के मामले में लोगों में भारी रोष है और लोग सोशल मीडिया के ज़रिए अपना आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं.

पत्रकार और लेखक निलांजना रॉय (@nilanjanaroy1h) ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट ट्विटर पर अपने संदेश में कहा, "मुंबई गैंग-रेप बाहर जाकर काम करने वाली सभी वर्ग की महिलाओं के लिए बुरा संदेश है."

परेल में ही काम करने वाली रति चौधरी कहती हैं, "मैं लोअर परेल में ही काम करती हूँ. यह बहुत डरावना है."

विजयेता भी इस घटना के बाद डरी हुई हैं. उन्होंने ट्विटर पर अपना डर ज़ाहिर करते हुए कहा, "लोअर परेल में हुए 22 वर्षीय फ़ोटोग्राफर के बलात्कार से मैं भयभीत हूँ."

परेल मुंबई का बहुत ही व्यस्त इलाका है. इस तरफ ध्यान दिलाते हुए नाओमी दत्ता ने अपने संदेश में घटना पर आश्चर्य जताते हुए कहा, "परेल...शहर के केन्द्र में. यह तो मुम्बई का दिल है. सारे पॉश रेस्टॉरेंट और मॉल इसी इलाके में हैं."

ट्विटर संदेशों में लोग सभी से इस घटना के संदिग्धों को पकड़ने की भी अपील कर रहे हैं.

स्नेहा महाले (@randomcards18m) ने अपील की, "पुलिस ने लोअर परेल में हुए बलात्कार में संदिग्धों के स्केच जारी किए हैं. उन्हें पकड़ने में मदद करें."

राजनीतिक प्रतिक्रियाएं

मिलिंद देवड़ा ने कहा है, "मुंबई पुलिस को कल के कथित बलात्कार के अभियुक्तों को तत्काल गिरफ्तार करना चाहिए और उन्हें जल्द से जल्द सजा देनी चाहिए. मुंबई को महिलाओं के लिए सुरक्षित शहर होने पर गर्व रहा है."

फ़िल्म कलाकार सेलिना जेटली ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "मुंबई की महिला पत्रकार के बलात्कार की ख़बर सुनकर व्यथित हूँ. लोगों के मन में डर पैदा करने के लिए बलात्कार की सजा को कड़े से कड़ा बनाना होगा.

पूजा भट्ट ने कहा, “मुंबई में कल दिनदहाड़े हुए बलात्कार की ख़बर सुनकर शर्मिंदा हूँ. यह वह शहर नहीं रहा जिसमें मैं पली बढ़ी हूँ. शर्मनाक है ये!”

कैंडल मार्च

ट्विटर पर कई लोगों ने ऐसी घटनाओं के प्रति आम लोगों के रवैय्ये पर भी सवाल उठाए हैं.

मैरी गोल्ड (@OyeMaria9h) कहती हैं, "शाम को छह बजे सामूहिक बलात्कार !! उन्होंने एक को बाँध दिया और दूसरे के साथ बलात्कार किया. कुछ कैंडल लाइट मार्च निकलेंगे और हम फिर से बेफिक्र हो जाएँगे."

वहीं आदित्य राज कौल कहते हैं, "मुंबई बलात्कार से मुझे दिल्ली गैंग रेप के अभियुक्तों की याद आ गई. उन्हें उनके नृशंस अपराध के लिए अभी तक सजा नहीं मिली है. यह देरी करने लायक नहीं है."

पुलिस ने संदिग्धों का स्केच जारी किया है. पुलिस के अनुसार 16 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है.

रिपोर्टों के अनुसार ये महिला फ़ोटो पत्रकार एक अंग्रेजी पत्रिका में इंटर्न के तौर पर काम कर रही थीं.

(बीबीसी हिन्दी एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार