BBC navigation

बिहार में महिला ने 'कथित बलात्कारी' को जला डाला

 बुधवार, 3 अप्रैल, 2013 को 18:12 IST तक के समाचार

मेडिकल जांच के लिए अस्पताल पहुंची पीड़ित

''हाँ, जबरदस्ती मेरी इज्जत बर्बाद करके जब वह मेरे ही घर में नशे की हालत में सो गया तो मैंने उसे जिंदा जलाकर मार दिया. बहुत हिम्मत जुटाकर मैंने यह काम किया.''

45 साल की सुजान देवी (बदला हुआ नाम) जब यह बात बोल रही थीं, तब उनके चेहरे पर पछतावा, दुख या भय जैसा कोई भाव नहीं दिख रहा था.

पटना से 15 किलोमीटर दूर परसा बाज़ार के पास सुइथा गाँव में सोमवार आधी रात के समय यह 'रेप और रेपिस्ट की हत्या' वाली वारदात हुई थी.

सीधी और हिम्मती

परसा बाज़ार पुलिस स्टेशन के दारोगा मुकेश चन्द्र कुंवर के मुताबिक इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और कार्रवाई की जा रही है.

पटना के एक अस्पताल में मेडिकल जांच के लिए लाई गई सुजान देवी से मैंने बातचीत की.

वह मुझे सीधी-सादी लेकिन काफ़ी हिम्मती लगीं.

सुजान देवी के पति की 15 साल पहले मृत्यु हो गई थी.

उन्होंने मुझसे बताया, ''आधी रात को मेरे गाँव का ही भोला ठाकुर मेरे घर में घुस आया था. नशे में धुत्त उसने जान से मारने की धमकी देकर मुझसे जबरदस्ती की.''

इतना बताकर सुजान देवी कुछ देर के लिए चुप हो गयीं, लेकिन उनके चेहरे पर रोष बिलकुल साफ़ दिख रहा था.

"मैने सोच लिया था कि आज इसको जलाकर मार डालना है. सारा कैरोसीन तेल एक कठौती में लेकर मैंने उसमें अपनी साड़ी को डाल दिया और तब उस पापी के ऊपर वही साड़ी ओढ़ा दिया. फिर उसमें आग लगा दी"

बलात्कार पीड़िता

उन्होंने फिर कहा, ''इज्जत लूटने के बाद वह नशा के मारे लुढ़क गया, तब मैं उठी और 5 लीटर कैरोसीन तेल वाला डब्बा घर के कोने से उठा लाई. मैने सोच लिया था कि आज इसको जलाकर मार डालना है. सारा कैरोसीन तेल एक कठौती में लेकर मैंने उसमें अपनी साड़ी को डाल दिया और तब उस पापी के ऊपर वही साड़ी ओढ़ा दिया. फिर उसमें आग लगा दी और घर के दरवाजे को बाहर से बंद करके गाँव में निकल गई.''

'कोई नहीं आया'

सुजान देवी कहती हैं कि उन्होंने शोर मचाया लेकिन गांव का एक भी आदमी घर से बाहर नहीं आया. तब उन्होंने एक वार्ड सदस्य के दरवाजे को पीट-पीट कर उन्हें जगाया और सारी कहानी सुनाई.

इसके बाद परसा बाज़ार पुलिस थाने को ख़बर दी गई.

पति के गुज़रने के बाद से सुजान देवी गाँव के अपने घर में एक बेटे और दो बेटियों के साथ रह रही थीं.

उनकी दोनों बेटियों की शादी हो चुकी है और बेटा दिल्ली में काम करता है. पिछले कुछ समय से वह अकेली रहती हैं. वो कहती हैं कि गांव में उनका किसी से झगड़ा नहीं है.

उधर जलकर मरे कथित बलात्कारी भोला ठाकुर की पत्नी ने भी पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है. उनका आरोप है कि सुजान देवी ने उनके पति को घर बुलाया था और वहां तेज़ाब से जलाकर उनकी हत्या कर दी गई.

अनौपचारिक बातचीत में पुलिसकर्मी भोला ठाकुर की बीवी के आरोप को निराधार बताते हैं और सुजान देवी के साहस की दाद देते हैं.

स्थानीय महिला संगठनों ने तो सुजान देवी को पुरस्कृत करने की मांग शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.