BBC navigation

दिल्ली में 'अरबपति नेता' की हत्या

 मंगलवार, 26 मार्च, 2013 को 20:41 IST तक के समाचार
दिल्ली पुलिस

दीपक भारद्वाज की हत्या की जाँच दिल्ली पुलिस कर रही है.

दिल्ली के अरबपति व्यापारी और बहुजन समाज पार्टी के नेता दीपक भारद्वाज की हत्या के सिलसिले में सीसीटीवी फ़ुटेज सामने आया है. दिल्ली पुलिस ने घटना से जुड़े इस वीडियो फुटेज की पुष्टि की है.

इसमें एक कार बंद गेट की ओर आती दिखती है और कुछ ही पलों में रिवॉल्वर लिए दो नौजवान भी पीछे पीछे भागते हुए कार के पास पहुँचते हैं.

उनमें से एक कार की बाईं तरफ़ से होते हुए आगे बढ़ कर गेट खोलता है और दूसरा पीछे मुड़कर रिवॉल्वर दिखाता है.

गेट खुलते ही कार बाहर निकल जाती है, मगर दोनों लोग उसमें सवार नहीं होते. बल्कि वो दुलकी चाल से कार के साथ साथ बाहर की सड़क पर बाईं ओर ओझल हो जाते हैं.

कौन थे हमलावर?

जाँचकर्ताओं का अंदाज़ा है कि ये लोग भारद्वाज को जानते रहे होंगे, अन्यथा फ़ार्म हाउस के बंद गेट से अंदर जाना संभव नहीं होता.

किसी बात पर दीपक भारद्वाज से उनकी झड़प हो गई और उन्होंने कथित तौर पर गोली चला दी.

दीपक भारद्वाज कंस्ट्रक्शन का बिज़नेस करते थे और उनके कई राज्यों में उनके रिहाइशी प्रोजेक्ट चल रहे हैं. वो द्वारका में एक स्कूल भी चलाते थे.

फ़ार्म हाउस के बाहर पुलिस तैनात है और मामले की जाँच जारी है.

रंजिश का मामला

दिल्ली के पुलिस आयुक्त नीरज कुमार ने पत्रकारों को बताया है कि ये निजी रंजिश का मामला लगता है.

शुरुआती जाँच से अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि किसी बात पर दीपक भारद्वाज से उनकी झड़प हो गई और उन्होंने कथित तौर पर गोली चला दी.

पिछले साल नवंबर में दक्षिण दिल्ली के एक फ़ार्म हाउस में उत्तर प्रदेश के शराब व्यापारी क्लिक करें पौंटी चड्ढा और उनके भाई की गोली मारकर क्लिक करें हत्या कर दी गई थी.

दीपक भारद्वाज की तरह पौंटी चड्ढा भी कंस्ट्रक्शन आदि तमाम तरह के बिज़नेस करते थे और उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के कई बड़े नेताओं के क़रीबी माने जाते थे.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.