बीजेपी कार्यकारिणी में बजा नरेन्द्र मोदी का डंका

  • 2 मार्च 2013

अभी तक गुजरात के मुख्य मंत्री नरेन्द्र मोदी को पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनाए जाने पर झिझके से दिखने वाले, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने नरेन्द्र मोदी के तीसरी बार मुख्य मंत्री चुने जाने पर उनकी भूरी-भूरी प्रशंसा की.

पार्टी की दिल्ली में जारी राष्ट्रीय कार्यकारिणी के दौरान जितनी बार भी नरेन्द्र मोदी का नाम लिया गया, देश के हर हिस्से से आए कार्यकर्ताओं और नेतागणों ने उसपर ज़बरदस्त तालियां बजाईं और अपनी खुशी का इज़हार किया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक़ देश भर से आए पार्टी पदाधिकारियों के बीच मोदी की प्रसिद्धि साफ देखने में आ रही थी.

हालांकि राष्ट्रीय कार्यकारिणी का मुख्य मुद्दा अध्यक्ष पद के लिए राजनाथ सिंह के नाम का अनुमोदन है लेकिन गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी बैठक के सितारे रहे.

दावेदार मोदी

शुरूआत हुई दिल्ली बीजेपी प्रमुख विजय गोयल की तरफ़ से जब उन्होंने कह दिया कि लगता है मनमोहन सिंह नहीं बल्कि जैसे नरेन्द्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं.

उन्होंने कहा , “हालांकि प्रधानमंत्री पद का दावेदार बाद में चुना जाएगा पर लगता है कि मानो वो (नरेंद्र मोदी) ही प्रधानमंत्री हों.”

विजय गोयल ऐसा कहते ही दर्शकों ने खूब तालियां बजाई.

पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने अपने उद्धघाटन भाषण में नरेन्द्र मोदी की तीसरी विधानसभा जीत का जिक्र करते हुए विशेष स्वागत किया और वहां मौजूद दो हज़ार से अधिक पदाधिकारियों को खड़े होकर मोदी का स्वागत करने के लिए कहा. ये पहली बार था जब किसी भाजपा मुख्यमंत्री का इस तरह से स्वागत किया गया है.

राजनाथ सिंह ने कहा, “हमें ये जानकर खुशी हो रही है कि उन्होंने जीत की हैट्रिक बनाई है. हमने इससे पहले भारतीय जनता पार्टी के किसी मुख्यमंत्री के लगातार तीन चुनाव जीतते हुए नहीं देखा है.”

जीत की हैट्रिक

राजनाथ सिंह के अनुसार, “मोदी के विकास मॉडल की सब तारीफ करते हैं. अमरीका और यूरोपीय संघ ने भी मोदी के सुशासन की तारीफ़ की है.”

राजनाथ सिंह यहीं नहीं रुके, बल्कि उन्होंने आगे कहा, “सिर्फ मेरे शब्दों से मोदी का स्वागत करना उचित नहीं होगा. आप सब उनका खड़े होकर अभिवादन कीजिए.”

इस घोषणा के बाद मंच पर बैठे पार्टी के शीर्ष नेतृत्व और कार्यकर्ताओं ने खडे़ होकर मोदी का स्वागत किया.

हालांकि राजनाथ सिंह ने अपने भाषण के अंत में मोदी के प्रति इस झुकाव को संतुलित करने के लिए भाजपा शासित राज्यों के बाकी मुख्यमंत्रियों की तारीफ़ भी की.

बाकियों से भी उम्मीद

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह भी जीत की हैट्रिक बनाएंगे. इन दोनों राज्यों में इस साल के अंत में ही चुनाव होने वाले हैं.

नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान सोमवार को राष्ट्रीय कार्यकारीणी में अपने भाषण देगें. जहां मोदी सुशासन के मुद्दे पर बोलेंगे वहीं शिवराज सिंह चौहान कृषि विकास पर बोलेंगे.

पीटीआई के अनुसार ऐसी संभावना है कि नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह को संसदीय बोर्ड में शामिल किया जा सकता है.

हालांकि मोदी का नाम बार बार पार्टी के भीतर प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर लिया जाता रहा है, लेकिन किसी भी केंद्रीय नेता ने इसपर साफ़ तौर पर अबतक कुछ नही कहा है.

राष्ट्रीय प्रजातांत्रिक गठबंधन यानी एनडीए के कई बड़े नेता जैसे नितिश कुमार नरेन्द्र मोदी को लेकर असहज हैं और उन्होंने अपने बयानों में ये साफ़ किया है.

संबंधित समाचार