BBC navigation

पाक के साथ सामान्य रिश्ते संभव नहीं: मनमोहन

 मंगलवार, 15 जनवरी, 2013 को 17:46 IST तक के समाचार
मनमोहन सिंह

मनमोहन सिंह ने सीमापार हुई घटना को 'अस्वीकार्य' बताया है

भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान की ओर कड़ा रुख़ इख़्तियार करते हुए कहा है कि नियंत्रण रेखा पर हुई बर्बर घटना के बाद पाकिस्तान के साथ सामान्य रिश्ते रख पाना संभव नहीं है.

राजधानी दिल्ली में मंगलवार को सेना दिवस के मौक़े पर आयोजित एक समारोह में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि नियंत्रण रेखा पर जो भी हुआ वो अस्वीकार्य है.

दूरदर्शन चैनल के मुताबिक़ प्रधानमंत्री ने कहा, “भारत और पाकिस्तान के नियंत्रण रेखा पर जो हुआ, वो अस्वीकार्य है. मुझे उम्मीद है कि पाकिस्तान को इस बात का एहसास होगा कि नियंत्रण रेखा पर हुई बर्बर घटना के बाद पाकिस्तान के साथ सामान्य संबंध क़ायम नहीं रह सकते.”

उन्होंने ये भी कहा कि भारतीय सैनिकों की बर्बर हत्या करने वालों के ख़िलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.

"भारत और पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा पर जो हुआ, वो अस्वीकार्य है. मुझे उम्मीद है कि पाकिस्तान को इस बात का एहसास हो कि सीमापार हुई बर्बर घटना के बाद पाकिस्तान के साथ सामान्य कारोबार नहीं हो सकता"

भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

कड़े शब्दों का इस्तेमाल करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनो देशों के बीच शांतिवार्ता का भविष्य इस बात पर निर्भर है कि पाकिस्तान सही दिशा में कद़म उठाता है या नहीं.

बाद में केंद्रीय विदेश मंत्री सलमान ख़ुर्शीद ने एक प्रेस कांफ़्रेंस करके बताया कि पाकिस्तान के सामने इस मामले में सभी तथ्य और सबूत रखे गए हैं अब देखना है कि पाकिस्तान इस मामले में क्या क़दम उठाता है.

उन्होंने कहा, "अगर पाकिस्तान इस मसले पर सही दिशा में क़दम नहीं उठाता है तो रिश्ते सामान्य नहीं रहेंगे." हालांकि ख़ुर्शीद ने ये बताने से इनकार कर दिया कि भारत पाकिस्तान से किस तरह के क़दम की उम्मीद कर रहा है.

बिगड़ते हालात

ग़ौरतलब है कि सोमवार को भारतीय सेनाध्यक्ष बिक्रम सिंह ने कड़े शब्दों में कहा था कि भारतीय सेना पाकिस्तान को जवाब देने के लिए तैयार है.

इस बीच 'वीज़ा ऑन अराइवल' की स्कीम को भी फ़िलहाल स्थगित कर दिया गया है.

गृह सचिव आर के सिंह ने मीडिया को बताया कि इस योजना से जुड़े कुछ निर्णय अभी बाक़ी हैं और इसलिए मंगलवार से इसकी शुरुआत नहीं की जा सकी.

हालांकि उन्होंने ये नहीं बताया कि ये योजना कब शुरू की जाएगी.

‘वीज़ा ऑन अराइवल’ योजना के तहत वागा बॉर्डर पर पाकिस्तान के वरिष्ठ नागरिकों के लिए 'सिंगल-एंट्री वीज़ा' जारी किया जाना था जो 45 दिनों के लिए वैध रहेगा. लेकिन फ़िलहाल इस पर रोक लगा दी गई है.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.