BBC navigation

सात वर्षीय लड़की का स्कूल के शौचालय में बलात्कार

 मंगलवार, 15 जनवरी, 2013 को 12:47 IST तक के समाचार

मंगलवार को होने वाली परीक्षा रद्द कर दी गई और स्कूल बंद कर दिया गया.

गोवा के वास्को-डि-गामा शहर में एक सात वर्षीय लड़की का उसके स्कूल के शौचालय में बलात्कार कर दिया गया.

डीजीपी किशन कुमार ने बीबीसी को बलात्कार की पुष्टि की लेकिन और जानकारी देने से मना कर दिया.

पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर गोवा पुलिस ने एएफपी समाचार एजंसी को बताया, “लड़की का बलात्कार स्कूल में भोजन के अवकाश के दौरान किया गया.”

पुलिस के मुताबिक ये शौचालय स्कूल की हेडमिस्ट्रस के दफ़्तर के पास बना था और हेडमिस्ट्रेस से भी पुलिस ने थाने में पूछताछ की है.

लोगों में आक्रोश

स्थानीय पत्रकार गौरी घारपुरे के मुताबिक बलात्कार की शिकार बच्ची और उनका परिवार इस सदमे से उबरने की कोशिश कर रहा है. उसी स्कूल में पढ़ने वाले एक छात्र के माता-पिता ने पहचान छुपाने के अनुरोध के साथ घारपुरे को बताया, "बच्ची ने बात करने की स्थिति में है. लेकिन पूरा परिवार सदमे में है."

"बच्ची ने बात करने की स्थिति में है. लेकिन पूरा परिवार सदमे में है."

पीड़िता से मिलने के बाद एक अन्य छात्र के माता-पिता

उस मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंपी गई है. मंगलवार की सुबह वास्को-डि-गामा नगर निगम कार्यालय के बाहर भी लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. पुलिस को इलाके में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती करनी पड़ी है.

इससे पहले सोमवार रात को मामले की जानकारी सामने आने के बाद स्कूल में पढ़नेवाले बच्चों के मां-बाप समेत सैकड़ों लोग स्कूल के बाहर जमा हो गए और स्कूल प्रशासन की लापरवाही के खिलाफ़ प्रदर्शन किया.

स्थानीय पत्रकार गौरी घारपुरे से उसी स्कूल में पढ़ने वाले एक छात्र के माता-पिता ने कहा, "ये अचरज भरा है कि कोई इस तरह स्कूल के अंदर आकर इस तरह का अपराध कर गया. अब हम स्कूल प्रशासन से अनुरोध करेंगे कि हमें स्कूल के दौरान अपने बच्चों से मिलने की अनुमति दी जाए."

पुलिस ने दूसरी कक्षा में पढ़नेवाली इस लड़की के साथ दुष्कर्म करनेवाले का स्केच जारी किया है और उसकी तलाश जारी है.

स्कूल की लापरवाही तो नहीं

इस मामले का पता सोमवार सुबह 10.45 बजे तब चला जब एक आया ने शौचालय में बच्ची को रोते हुए देखा. आया ने हेड मिस्ट्रेस को इसकी जानकारी दी. बच्ची की मां दोपहर 12.30 बजे स्कूल आयी. तब जाकर मामला दर्ज हुआ.

मामले की जांच कर रहे अधिकारी सुरेश गांवकर ने बताया कि दोपहर 1.30 बजे मामला दर्ज किया गया. लेकिन घटना के बारे में किसी अन्य सवाल का जवाब देने से उन्होंने इनकार कर दिया.

तनाव बढ़ने पर मुख्यमंत्री मनोहर पारिकर ने भी सोमवार रात स्कूल का दौरा किया और कसूरवार को पकड़ने की हर मुमकिन कोशिश का वायदा किया.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.