उत्तर भारत में पारा गिरा, दिल्ली भी ठिठुरी

  • 7 जनवरी 2013
चंडीगढ़ में ठंड से बचने के लिए हाथ सेंकते लोग
पूरे उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी है.

उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप जारी है. रविवार को राजधानी दिल्ली में सीज़न का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक ठंड की वजह से उत्तर भारत के विभिन्न हिस्सों में अब तक 23 और लोगों की मौत हो गई है. उत्तर प्रदेश में 15 और मौतों के साथ अब तक शीतलहर के चलते 155 लोगों की मौत हो चुकी है.

दिल्ली में रविवार को पारा 1.9 डिग्री सेलसियस तक पहुंच गया जो कि सामान्य से पांच डिग्री कम था जबकि अधिकतम तापमान 11.8 डिग्री रहा. पिछले पांच साल में जनवरी के महीने में ये सबसे कम तापमान था. जनवरी 2008 में दिल्ली में पारा 1.9 डिग्री सेलसियस पहुंचा था.

पिछले बुधवार दिल्ली में 44 साल में सबसे ठंडा दिन रहा था जब अधिकतम तापमान 9.8 डिग्री दर्ज किया हुआ था. मौसम विभाग का कहना है कि सोमवार की सुबह दिल्ली में कोहरा छाया रहेगा. वहीं उत्तरप्रदेश में रविवार को 0.2 डिग्री सेलिसियस तापमान के साथ राज्य में मुज़फ़्फनगर सबसे ठंडी जगह रही. मौसम विभाग के अनुसार राज्य में अगले 48 घंटे शीत लहर जारी रहेगी और पूर्वी हिस्सों में घना कोहरा रहेगा.

पारा गिरा

पंजाब और हरियाणा में छह लोग ठंड का शिकार बने. हिसार में अब तक का सबसे कम -1.1 डिग्री तापमान रहा और चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेलसियस रहा.

राजस्थान के बूंदी ज़िले में ठंड से दो लोगों की जान चली गई और राज्य के चुरु में पारा -2.2 डिग्री सेलसियस रहा जबकि माउंट आबू में लगातार दूसरे दिन न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री दर्ज हुआ.

कश्मीर के श्रीनगर में भी तापमान शून्य डिग्री से कम रहा और रविवार को पारा -4.6 डिग्री तक जा पहुंचा. घाटी में सबसे ठंडी जगह स्कींग के लिए मशहूर गुलमर्ग था जहां तापमान -9 डिग्री दर्ज हुआ.

हिमाचल प्रदेश में कई स्थानों पर पारा और नीचे गिर कर शून्य से नीचे पहुंच गया. लाहुल-स्पिति ज़िले में केयलोंग सबसे ठंडा स्थान रहा जहां -10.4 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया जबकि राजधानी शिमला में 0.9 डिग्री सेलसियस तापमान दर्ज किया गया.

संबंधित समाचार