पुतिन की यात्रा: कई समझौतों पर हस्ताक्षर

 सोमवार, 24 दिसंबर, 2012 को 19:47 IST तक के समाचार

दिल्ली में संवाददाताओं को संबोधित करते हुए पूतिन-मनमोहन

भारत-रूस संबंधों को प्रगाढ़ बनाने की मंशा से भारत आए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मुलाकात की और कई अहम समझौतों पर हत्साक्षर किए.

दोनों नेताओं की ये मुलाकात पहले हैदराबाद हाउस में होनी थी लेकिन दिल्ली में प्रदर्शन को देखते हुए मुलाकात का स्थान बदल दिया गया.

इस मुलाकात में दोनों देशों के बीच 2.9 अरब डॉलर के रक्षा सौदों पर हस्ताक्षर किए गए.

समझौता

दोनों देशों के बीच कुल 10 समझौते हुए हैं.

समझौते के तहत भारत रूस से 42 सुखोई, 30 फाइटर जेट विमान खरीदेगा.

रुस लंबे समय से भारत को हथियार मुहैया कराता रहा है.

रूस और भारत के बीच सलाना व्यापारिक संबंध 10 अरब डॉलर का है लेकिन हाल में इसमें कमी आई है.

बीबीसी संवाददाता संजोई मजूमदार ने कहा कि फिलहाल भारत में रूस से 70 फीसदी हथियारों का सौदा होता है.

पुतिन भारत की एक दिन की यात्रा पर हैं और उन्होंने कहा है कि वो दोनों देशों के बीच के व्यापार को 2015 तक 10 अरब डॉलर से बढ़ा कर 20 अरब डॉलर करना चाहते हैं.

रूस के अन्य दो नेताओं ने भी दो राष्ट्रों के बीच हुए इस सैन्य समझौते को बड़ा बताया है. उनका कहना था कि सैन्य संबंधों को लेकर ये अभूतपूर्व कदम है.

भारतीय अख़बार ‘द हिंदू’ के मुताबिक पुतिन ने साल 2000 में दोनों देशों के बीच हुए रणनीतिक समझौतों को ऐतिहासिक क़दम क़रार दिया है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.