असम के चर्चित छेड़छाड़ मामले में 11को सज़ा

  • 8 दिसंबर 2012
असम हिंसा
जुलाई महीने में हुई इस घटना में 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया था

पूर्वोत्तर राज्य असम में जुलाई महीने में हुए छेड़छाड़ के मामले में शुक्रवार को अदालत ने मुख्य अभियुक्त अमरज्योति कलीता सहित 11 लोगों को दोषी करार दिया, जबकि चार अन्य को बरी कर दिया.

सभी दोषियों को तीन-तीन साल की कैद की सज़ा सुनाई गई है.

इस मामले में 16 लोगों को गिरफ्तार किया गया था जिनमें से एक नाबालिग है जिसके खिलाफ सुनवाई बाल अदालत करेगी.

मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने एक स्थानीय टीवी चैनल के पत्रकार समेत तीन लोगों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया.

गत नौ जुलाई की रात एक बार के बाहर कुछ लोगों ने एक युवती से उस वक्त छेड़छाड़ की थी जब वो अपने एक दोस्त के यहां जन्मदिन की पार्टी से लौट रही थी.

वीडियो

इस घटना को एक टीवी पत्रकार ने अपने कैमरे में कैद कर लिया था जो बाद में चैनल पर प्रसारित किया गया था. साथ ही इसे यूट्यूब पर भी डाला गया था.

इस खबर को दिखाने वाले टीवी चैनल के संपादक ने घटना के बाद ही इस्तीफ़ा दे दिया था.

इस मामले में मुख्य अभियुक्त कलीता असमिया भाषा के एक टीवी सीरियल में काम कर चुका है.

असम में महिलाओं के साथ होने वाले अपराध की दर काफी ज्यादा, करीब सैंतीस प्रतिशत है जो कि राष्ट्रीय औसत-18.9 से लगभग दोगुनी है.

संबंधित समाचार