बिहार पुलिस ने अमिताभ से माफी मांगी

 रविवार, 11 नवंबर, 2012 को 16:06 IST तक के समाचार
अमिताभ बच्चन

पुलिस ने अमिताभ बच्चन से माफी मांगी है

अमिताभ बच्चन ने बिहार पुलिस के कुछ पोस्टरों में बिना अनुमति अपना फोटो इस्तेमाल करने पर कड़ा विरोध जताया है. इसके बाद पुलिस ने इन पोस्टरों को हटा लिया है.

अमिताभ बच्चन ने नाराजगी जताते हुए अपने फेसबुक पन्ने पर लिखा है, “बिहार पुलिस ने माओवादियों के खिलाफ अपनी लड़ाई में लोगों की भर्ती के लिए मेरे फोटो का इस्तेमाल किया.. ये गैर कानूनी, गलत और मानहानि है. वो मेरी या सोनी की अनुमति लिए बिना ऐसा नहीं कर सकते.”

अमिताभ ने कहा कि वे इस बारे में अपने वकीलों से बात कर रहे हैं.

लेकिन कैमूर जिले के पुलिस अधीक्षक उमाशंकर सुधांशु ने बताया है कि इस नक्सल प्रभावित जिले में युवाओं को माओवादियों के प्रभाव से दूर रखने के लिए ऐसा किया गया और अमिताभ के विरोध के बाद पोस्टर हटा लिए गए हैं.

उन्होंने माना कि अमिताभ के फोटो का इस्तेमाल उनकी अनुमति बिना किया गया. सुधांशु ने कहा, “मैं अमिताभ बच्चन से माफी मांगता हूं कि उनके पोस्टर युवाओं को शिक्षित और प्रेरित करने के लिए इस्तेमाल किए गए.”

'जनहित में इस्तेमाल'

"बिहार पुलिस ने माओवादियों के खिलाफ अपनी लड़ाई में लोगों की भर्ती के लिए मेरे फोटो का इस्तेमाल किया.. ये गैर कानूनी, गलत और मानहानि है. "

अमिताभ बच्चन

बिहार के पुलिस महानिदेशक अभयानंद ने भी इस मामले को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है.

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने अमिताभ बच्चन के फोटो का इस्तेमाल किसी दुर्भावना से नहीं, बल्कि पूरी तरह जनहित में किया. पुलिस के अनुसार इसका कोई व्यावसायिक उद्देश्य नहीं था.

पुलिस ने ये पोस्टर ‘अधौरा 30’ नाम के अभियान में इस्तेमाल किए. अधिकारियों के अनुसार इसका मकसद ‘सुपर 30’ की तर्ज पर अधौरा खंड के 30 प्रतिभाशाली युवाओं को चुनना है जिन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार किया जाएगा.

अभिताभ बच्चन के फेसबुक पन्ने पर इस मुद्दे पर लोगों की मिली जुली प्रतिक्रिया रही है. रंगानानाथा राव कहते हैं कि बिहार पुलिस का उद्देश्य बेशक अच्छा है लेकिन उन्हें इस बारे में अमिताभ को सूचित करना चाहिए था.

यगनेश सुथर कहते हैं, “बेशक ये देश हित में है, लेकिन अनुमति ली जानी चाहिए थी.”

वहीं अमिताभ के रुख का समर्थन करने वालों की भी कमी नहीं है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.