बिल क्लिंटन ने जिनके लिए प्रचार किया ..

 गुरुवार, 8 नवंबर, 2012 को 07:47 IST तक के समाचार

एमी बेरा ने अपेन विपक्षियों से ज्यादा चंदा जुटाया.

अमरीकी प्रतिनिधि सभा के चुनाव में कैलिफौर्निया की एक सीट से भारतीय मूल के एमी बेरा चुने गए हैं.

45 साल के बेरा पहले हिंदू हैं जिन्होंने प्रतिनिधि सभा का सदस्य बन कर इतिहास रचा है.

चुनावों से पहले भी बेरा के नाम पर अमरीकी मीडिया में खूब चर्चा थी और उन्हें जीत का प्रबल उम्मीदवार माना जा रहा था.

बेरा डेमोक्रेट हैं और उन्हें पार्टी कितना अहम उम्मीदवार मान रही थी इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि
उनके लिए पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन ने भी प्रचार किया.

पूरे चुनावी अभियान में बेरा को पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन का समर्थन हासिल रहा. क्लिंटन ने पिछले महीने दो बार बेरा के लिए प्रचार भी किया था.

बेरा के लिए क बड़ी उपलब्धि ये भी रही कि उन्होंने प्रचार के दौरान चुनावी चंदा जुटाने में अपने विपक्षियों को काफी पीछे छोड़ दिया था.

पहले हिंदू

लेकिन बेरा प्रतिनिधि सभा में पहुँचने वाले पहले हिंदू हैं.

करीब 50 साल पहले बेरा के माता-पिता अमरीका आ गए थे.

अमरीकी प्रतिनिधि सभा के लिए सबसे पहले वर्ष 1950 में भारतीय मूल के अमरीकी दलीप सिंह सौंध चुने गए थे जबकि बॉबी जिंदल लूज़ियाना प्रांत के गवर्नर चुने जाने से पहले वर्ष 2005 से 2008 तक प्रतिनिधि सभा के सदस्य रहे थे.

लेकिन भारतीय मूल के अमरीकी उपेंद्र चिवुकुला न्यू जर्सी से, पेनसिल्वेनिया से चिकित्सक मनन त्रिवेदी, मिशिगन से सयैद ताज और कैलिफ़ोर्निया से जैक उप्पल प्रतिनिधि सभा के लिए चुनाव हार गए हैं.

रिपब्लिकिन पार्टी के एक उम्मीदवार के सहित भारतीय मूल के छह अमरीकियों ने प्रतिनिधि सभा के लिए चुनाव लड़ा था.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.