साफ़ राजनीति के लिए डॉ केजरीवाल के नुस्खे

  • 2 अक्तूबर 2012
अरविंद केजरीवाल - प्रशांत भूषण

अपने पार्टी के ज़रिए जीते हुए प्रत्याशियों के लालबत्ती, बँगला, सुरक्षा ना लेने की शपथ के साथ अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि उनकी पार्टी सबसे अलग होगी.

अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को पूर्व केंद्रीय न्याय मंत्री शांति भूषण और उनके बेटे प्रशांत भूषण की मौजूदगी में नए राजनीतिक दल की घोषणा की

इस मौके पर उन्होंने अपनी पार्टी के नीति पत्र में वो बातें कहीं हैं जो बकौल उनके उनकी पार्टी को देश में मौजूद भिन्न राजनीतिक दलों से अलग बनाती हैं.

उनके नीति पत्र के कुछ मुख्य बिंदु:

सीधे जनता का राज होगा:

गैर ज़रूरी सौन्दर्यीकरण या बेतुकी योजनाओं पर नहीं ख़र्च होगा उनकी पार्टी के राज में जनता तय करेगी कि ख़र्च कहाँ और कैसे होगा.

भ्रष्टाचार दूर करना:

भ्रष्ट लोगों पर आरोप लगने के बाद दो साल के अंदर सभी मुकदमों का निपटान कर उन्हें जेल भेजा जाएगा. और अगर उनकी सरकार बनती है तो पिछले कुछ सालों सभी घोटालों के दोषियों को छह महीनों के अंदर ही जेल भेज दिया जाएगा.

महंगाई कैसे दूर होगी:

अमीरों को करों में छूट की जगह आम आदमी की सब्सिडी बढ़ाई जाएगी. पेट्रोल, डीज़ल, रसोई गैस, सस्ती होंगी तो सब सस्ता हो जाएगा. इसी तरह देश में सभी तेल और गैस के कुओं का राष्ट्रीयकरण कर दिया जाएगा.

भूमि अधिग्रहण:

जनता की मर्जी से ही किसी भी ज़मीन को अधिगृहित किया जा सकेगा.

सबको शिक्षा सबको स्वास्थ्य:

सरकारी अस्पतालों और स्कूलों को विश्व स्तरीय बनाया जाएगा ताकि अमीर और गरीब हर तरह के बच्चे वहां जा कर पढ़ सकें. अस्पतालों को विश्व स्तरीय बनाने के लिए पैसा कहाँ से और कितना ज़रूरी होगा यह बताएगी नई पार्टी की ओर से गठित एक समिति.

राइट तो रिजेक्ट:

चुनाव में जनता को हक़ होगा कि अगर किसी चुनाव में कोई भी प्रत्याशी उन्हें पसंद न हो तो वो सबको नकार सकें. नकारे गए प्रत्याशियों को दोबारा चुनाव में खड़े होने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

राइट तो रिकॉल:

अपने चुने हुए नेता के काम से अगर इलाके की जनता नाखुश है तो उसे चुनाव आयोग के ज़रिए वापस बुलाया जा सकेगा.

दूसरी पार्टियों से अलग कैसे: पार्टी जब सत्ता में आयेगी तब आएगी लेकिन उसके पहले ही पार्टी ने संगठन को साफ़ रखने के लिए बनाया अपना लोकपाल.

इसमें दो जज होंगे जो किसी भी पदाधिकारी को पार्टी से निकल सकेगें. पार्टी का सारा हिसाब किताब जनता के सामने होगा.

संबंधित समाचार