टीम अन्ना ने लगाई राजनीति में छलांग

 शुक्रवार, 3 अगस्त, 2012 को 19:07 IST तक के समाचार
अन्ना हजारे

अन्ना हजारे ने देश में घूमकर 'लोगों को जगाने' की बात कही है.

टीम अन्ना ने औपचारिक तौर पर अपना राजनीतिक दल बनाने की घोषणा की है.

पिछले नौ दिनों से अनशन पर बैठे टीम अन्ना के मुख्य सदस्य अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आंदोलन पहले चरण से निकलकर अब दूसरे चरण को पहुंच गया है.

अन्ना हज़ारे के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के मुख्य कर्ता-धर्ता अरविंद केजरीवाल का कहना था, "अब सरकार को गिराने का वक्त आ गया है. हमारा दल पूरे देश का दौरा करेगा और जनता हमारे नेताओं का चुनाव करेगी. लेकिन अगर सरकार लोकपाल क़ानून पास कर देती है तो हमें राजनीति में आने की कोई ज़रूरत नहीं होगी."

अरविंद केजरीवाल और उनके कई साथी 23 जुलाई से ही अनशन पर मौजूद थे. लेकिन सरकार ने उनसे बातचीत की कोई पहल नहीं की थी.

गुरूवार को अरविंद केजरीवाल का स्वास्थ्य काफी गिर जाने की ख़बरें थीं. शाम के समय अन्ना हज़ारे ने घोषणा करते हुए कहा कि अगर जनता की मर्जी होगी तो वो एक राजनीतिक दल का गठन करेंगे.

केजरीवाल ने कहा कि वो सरकार के सामने नहीं झुके हैं बल्कि अब संसद के भीतर जाकर पूरी व्यवस्था से लडेंगे और उसमें बदलाव की कोशिश करेंगे.

भ्रमण

बाद में दिल्ली के जंतर मंतर के मंच से ही बोलते हुए अन्ना हज़ारे ने कहा कि वो आने वाले ढे़ढ़ साल में पूरे देश का भ्रमण करेंगे और लोगों को जगाएंगे.

कुछ लोग कह रहे हैं कि उन्हें पता था कि हज़ारे की टीम आख़िरकार राजनीति में ही उतरेगी.

उनके जवाब में अन्ना हजारे का कहना था कि पहले तो कहा जा रहा था कि अगर उन्हें व्यवस्था में बदलाव चाहिए तो संसद में आएं, और जब उन्होंने फैसला ले लिया है तो फिर सवाल क्यों उठाए जा रहे हैं.

हालांकि टीम अन्ना में राजनीतिक दल बनाए जाने को लेकर मतभेद हैं.

कर्णाटक के पूर्व लोकायुक्त संतोष हेगड़े और नर्मदा बचाव आंदोलन की मेधा पाटकर ने राजनीतिक दल बनाए जाने के विरोध में बयान दिया है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.