क्यों नहीं रहते अंबानी नए घर में?

  • 19 अक्तूबर 2011
मुकेश अंबानी ने एंटिला नामक घर करोड़ो रुपए में बनवाया है

भारत के सब से अमीर आदमी और रिलायंस इन्डस्ट्रीज़ के मुखिया मुकेश अंबानी ने हाल में दुनिया का सबसे महंगा घर बनाया था. लेकिन खबर है कि अब तक वो या उनका परिवार उसमें नहीं रहता, क्योंकि वास्तु शास्त्र के हिसाब से यह घर सही नहीं बना है. मुकेश अंबानी जब यह घर बनवा रहे थे तो इसे एक ड्रीम हॉउस यानी सपनों का घर कहा गया था. लेकिन घर बने एक साल से अधिक समय हो गया है यह घर अब तक आबाद नहीं हुआ है.

खुद मुकेश अंबानी ने इस ख़बर पर टिपण्णी नहीं की है और इस खबर को राज़ में रखा गया है कि वो इस नए घर में क्यों नहीं जा रहे हैं. उनके करीबी लोग भी कुछ कहने से कतराते हैं. वो केवल यह कहते हैं कि अंबानी दोनों घरों में रहते हैं. दर असल खबर यह है कि अंबानी को अब यह समझ में आया है की उनका नया घर वास्तु शास्त्र के हिसाब से नहीं बना है और वो नए घर में रिहाईश से घबराते हैं.

हफीज कॉन्ट्रेक्टर मुंबई के एक जाने माने वास्तुकार हैं .वो अंबानी को मशवरा देते हैं कि अंबानी वास्तु के बारे में न सोचें.

हफ़ीज़ कांट्रेक्टर का कहना था, ''मुकेश भाई को मेरा मशवरा है की वो अपने नए घर में प्रवेश करें और खुश रहें. आज कल कोई यह सब नहीं सोचता.''

हफीज कॉन्ट्रेक्टर के हिसाब से आज की दुनिया में और ख़ास तौर से मुंबई जैसी जगह में जहाँ ज़मीन तंग है वास्तु के बारे में सोचना उचित नहीं.

वास्तु शास्त्र के हिसाब से एक घर में हवा और रोशनी का घर के अन्दर सही संतुलन होना चाहिए. कहा जाता है की अंबानी के नए घर में पूरब की तरफ खिड़कियाँ कम हैं और पश्चिम की तरफ अधिक जिससे घर के अन्दर हवा और रोशनी का संतुलन नहीं रहा और यह अपशकुन है एक अरब डालर की लागत से बने इस घर के पास से मैं अक्सर गुज़रता हूँ और मुंबई में आए अपने मेहमानों को दिखाता हूँ कि यही है दुनिया का सबसे से महंगा रिहायशी घर.

इसकी पहली पांच मंजिलों पर वाहन पार्क करने की सुविधा है, जब की उसके ऊपर वाली मंजिल पर मनोरंजन का साधन है. बीच की मंजिल को अंबानी ने अपनी मां के लिए बनाया है. सब से ऊँची मंजिल पर खुद उनके और उनके परिवार की जगह है.

छत पर तीन हेलीकाप्टर उतरने की सुविधा है. जब यह घर बन रहा था तो इस पर काफी विवाद हुआ था. आलोचकों का कहना था कि जिस शहर की आधी से ज्यादा आबादी झोपड़ पट्टियों में रहती है उसमें इतनी महँगी इमारत बनाने की क्या ज़रुरत है.

घर कहें तो यह हमारे और आप की तरह का घर नहीं.

इस 170 मीटर ऊंची इमारत में 27 मंजिल हैं और आराम की वो सब चीज़ें जिसकी हम और आप केवल कल्पना कर सकते हैं. उल्लेखनीय है कि आलोचकों पर ध्यान न देते हुए अब रेमंड्स कंपनी के मालिक भी इसी तरह की इमारत बनवा रहे हैं जो अंबानी के घर से भी ऊंची होगी और इस में 35 मंजिलें होंगी.