सुकना मामले में वरिष्ठ सैन्य अधिकारी दोषी

सैन्य अधिकारी

लेफ़्टिनेंट जनरल रथ को मामला सामने आने के बाद ही उप प्रमुख के पद से हटा दिया गया था

भारतीय सेना के लेफ़्टिनेंट जनरल पीके रथ को सुकना भूमि घोटाले के मामले में एक सैन्य अदालत ने दोषी पाया है.

भ्रष्टाचार के किसी मामले में दोषी पाए गए वे सबसे वरिष्ठ अधिकारी हैं.

कोर्ट मार्शल ने तैंतीसवे कोर के कमांडर रहे लेफ़्टिनेंट जनरल रथ को ज़मीन के लिए 'नो ऑबजेक्शन सर्टिफ़िकेट' जारी करने, बिल्डर के साथ सहमति-पत्र पर हस्ताक्षर करने और इस विषय की जानकारी कमांड मुख्यालय को ना देने का दोषी पाया है.

पश्चिम बंगाल में सुकना सैन्य ठिकाने के बगल की 70 एकड़ की यह ज़मीन एक निजी बिल्डर को शैक्षणिक संस्थान के निर्माण के लिए दी गई थी.

इस मामले में सज़ा का फ़ैसला शनिवार को होगा.

लेफ़्टिनेंट जनरल रथ को इस फ़ैसले की जानकारी दे दी गई है.

आरोप

लेफ़्टिनेंट जनरल रथ के वकील मेजर एसएस पांडे के अनुसार उन पर सात आरोप थे जिनमें ठगी का मामला भी था लेकिन उन्हें चार आरोपों से बरी कर दिया गया.

यह ऐसा पहला मामला है जिसमें सेना के किसी लेफ़्टिनेंट जनरल रैंक के अधिकारी को भ्रष्टाचार के मामले में दोषी पाया गया है.

पहले वे सेना के डिप्टी चीफ़ का पद पाने के लिए चुने गए थे लेकिन वर्ष 2008 में ये मामला सामने आने उनकी पदस्थापना दूसरी जगह कर दी गई थी.

सैन्य अदालत की एक जाँच में लेफ़्टिनेंट जनरल रथ के साथ लेफ़्टिनेंट जनरल अवधेश प्रकाश और लेफ़्टिनेंट जनरल रमेश हालगुली और मेजर जनरल पीके सेन को भी दोषी पाया गया था.

लेफ़्टिनेंट जनरल अवधेश प्रकाश तत्कालीन सेना प्रमुख दीपक कपूर के सैन्य सचिव थे और लेफ़्टिनेंट जनरल रमेश हालगुली सेना के ग्यारवें कोर के कमांडर थे.

जाँच के बाद लेफ़्टिनेंट जनरल रथ और लेफ़्टिनेंट जनरल प्रकाश के ख़िलाफ़ तो कोर्ट मार्शल के आदेश दिए गए थे लेकिन बाक़ी दोनों अधिकारियों के ख़िलाफ़ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए गए थे.

लेफ़्टिनेंट जनरल प्रकाश इन चारों अधिकारियों में सबसे वरिष्ठ हैं और अभी उनके ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्रवाई चल रही है और उनके मामले की सुनवाई कोलकाता में पूरी हो चुकी है.

लेफ़्टिनेंट जनरल हालगुली इस समय दिल्ली के सैन्य मुख्यालय में सैन्य प्रशिक्षण के महानिदेशक की तरह काम कर रहे हैं.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.