सीएजी ने सिब्बल को दिया झटका

कपिल सिब्बल

कपिल सिब्बल ने सीएजी रिपोर्ट को ग़लत बताया था

2-जी स्पैक्ट्रम मामले में हुए नुक़सान के आँकड़ों को लेकर चल रहे विवाद में अब नया मोड़ आ गया है. दूरसंचार मंत्री कपिल सिब्बल के दावे पर नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (सीएजी) के प्रवक्ता ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.

नई दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत में सीएजी के प्रवक्ता बीएस चौहान ने कहा, "सीएजी अपनी रिपोर्ट पर 100 फ़ीसदी क़ायम है."

पिछले सप्ताह कपिल सिब्बल ने सीएजी से उन आँकड़ों पर सवाल उठाया था, जिसमें उसने कहा था कि 2-जी स्पैक्ट्रम मामले में हुआ नुक़सान 1.76 लाख करोड़ का है.

दूरसंचार मंत्री ने तो यहाँ तक कहा था कि सरकार को 2-जी स्पैक्ट्रम आबंटन में कोई नुक़सान नहीं हुआ है.

बयान

कपिल सिब्बल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा था कि सीएजी ने जिस आधार पर अपनी रिपोर्ट में आँकड़े पेश किए है उसकी कोई बुनियाद नहीं है और उसमें कई ग़लतियाँ हैं.

2-जी स्पैक्ट्रम मामले में पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा को त्यागपत्र देना पड़ा था और अब इस मामले की सीबीआई जाँच चल रही है, जिसकी निगरानी सुप्रीम कोर्ट कर रहा है.

सीएजी रिपोर्ट के आधार पर लोक लेखा समिति भी इस मामले की पड़ताल कर रही है. कपिल सिब्बल के बयान पर लोक लेखा समिति के अध्यक्ष और भारतीय जनता पार्टी के नेता मुरली मनोहर जोशी ने भी आपत्ति जताई थी.

उन्होंने कहा था कि कपिल सिब्बल ने पूरी रिपोर्ट पढ़ी नहीं है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.