कहां गया 65 रुपए का वो कोट

  • 7 अगस्त 2014

अनुपम खेर के टीवी शो पर जब ओम पुरी आए तो एक कोट का ज़िक्र छिड़ा. पता चला कि 65 रुपए की क़ीमत वाला ये कोट अनुपम खेर ने ओम पुरी को दिया था.

असल में ओम पुरी शिमला में एक नाटक के लिए गए थे जहाँ नाटक शुरू होने से पहले उनका कोट ग़ायब हो गया.

उस वक्त अनुपम खेर ने ओम पुरी को एक कोट देकर मदद की जो ओम पुरी ने अब तक लौटाया नही है.

इसी कोट का ज़िक्र जब शो पर हुआ तो अनुपम खेर ने कहा भाई मेरे पिता जी का कोट तो लौटा दो?

ये कोट अनुपम खेर के चाचा का था जो उन्होंने अपनी शादी पर पहना था और उसे मनहूस कोट करार करते हुए अनुपम के पिता को दे दिया.

लेकिन 65 रुपए का वो कोट कहां गया इसके बारे में ओम पुरी को भी नहीं पता.

कौन लिखेगा नवाब पटौदी की कहानी

काफ़ी समय से मंसूर अली ख़ां पटौदी के जीवन पर फिल्म बनाने की चर्चा हो रही है और इस फिल्म को बनाने के लिए उनके बेटे सैफ़ अली ख़ान काफी उत्सुक हैं.

पर चिंता इस बात की है कि जिस दौर में पटौदी खेलते थे उस समय के क्रिकेट के सभी रिकॉर्ड हासिल करना मुश्किल है.

रिकॉर्ड्स हासिल करने के बाद उन्हें फ़िल्म की शक्ल देना भी एक चुनौती है

ख़बर है कि सैफ़ अपने पिता पर बनने वाली इस फिल्म के लिए आजकल लेखक की तलाश में हैं.

सोनम कपूर का ‘नवाबी डिनर’

सोनम कपूर की आने वाली फिल्म ख़ूबसूरत का एक हिस्सा बीकानेर में शूट किया गया है.

इस सीन को फिल्माने के लिए सोनम ने बीकानेर की रानी सिद्धि कुमारी के महल में शूटिंग की.

हाल ही में जब सोनम को पता चला कि रानी सिद्धि कुमारी मुंबई में हैं तो सोनम ने उन्हें अपने साथ डिनर करने का न्योता दिया. इस ख़ास रात्रिभोज पर सोनम का साथ उनकी माँ सुनीता ने और पिता अनिल कपूर ने भी दिया.

फ़िल्म 'ख़ूबसूरत' ऋषिकेश मुखर्जी की क्लासिक फ़िल्म 'ख़ूबसूरत' का रीमेक है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार