मैं पाकिस्तान जाती ही नहीं :आशा भोंसले

  • 16 जनवरी 2013
आशा भोंसले,पार्श्व गायिका
आशा भोसंले के मुताबिक संगीत को झगड़े के बीच नहीं लाना चाहिए.

जब जब भारत पाकिस्तान के बीच रिश्ते बिगड़े हैं,उसका असर दोनों देशों के कलाकारों पर भी पड़ा है.

पिछले दिनों पाकिस्तानी गायक अली ज़फर के भारत में होने वाले एक कॉंसर्ट को रद्द कर दिया गया था.

तनाव के माहौल में कलाकार के पिसने की बात करते हुए गायिका आशा भोंसले कहती हैं "मैं कभी पाकिस्तान गई नहीं हूं ना पिसने के लिए ना गाने के लिए.मैं वो रास्ता ही नहीं लेती हूं जो मुझे ठीक नहीं लगता है.इसलिए मैं भारत में और दुनिया के दूसरे हिस्सों में गाती हूं."

भारत और पाकिस्तान के गायकों के बीच हो रहे रिएलटी शो पर भी आशा ने बात की जिसमें से एक में वो खुद जज की भूमिका में है.

अपनी फिल्म 'माई' के प्रमोशन के दौरान बात करते हुए आशा ने कहा कि ये रिएलटी शो तो होते रहते हैं, ये एक बिज़नेस है. आशा के मुताबिक "लोगों ने सोचा कि भारत पाक के बीच मैच होते हैं वैसे रिएलटी शो भी होने चाहिए. हमारा काम बस कुर्सी पर बैठकर सच राय देना है.मेरा ख़्याल है ये गाना बजाना प्यार की बात है,इसपर झगड़ा नहीं होना चाहिए."

वहीं पाकिस्तानी कलाकार भी अपनी बात कहने से पीछे नहीं हट रहे हैं. गायक अली ज़फर के अनुसार कुछ लोग नफरत को बढ़ावा देते हैं और कुछ प्यार और शांति को.आपको किस तरफ होना है ये आप खुद तय करें.

एक समाचार चैनल में अपनी बात रखते हुए पाकिस्तानी बैंड जुनून के गायक सलमान अहमद ने कहा "सांस्कृतिक मेल,न्यूकलियर मेल से ज़्यादा बेहतर है.भारत और पाकिस्तान की 1.4 बिलियन जनसंख्या शांति चाहती है या हिंसा?"