BBC navigation

शर्लिन का थ्री डी 'कामसूत्र'

 शनिवार, 24 नवंबर, 2012 को 10:19 IST तक के समाचार

फिल्म 'कामसूत्र-3डी' में शर्लिन चोपड़ा.

'कामसूत्र-3डी', ये नाम है मॉडल एक्टर शर्लिन चोपड़ा की आने वाली फिल्म का, जिसका फर्स्ट लुक गोवा में चल रहे 43वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह में लॉन्च किया जाएगा.

फिल्म के निर्देशक रुपेश पॉल ने बीबीसी से बातचीत करते हुए बताया कि फिल्म का ऑफर इससे पहले करीब 30 हीरोइनों को दिया गया था.

"शर्लिन फिल्म में पूरी तरह से नग्न दृश्य करने के लिए तैयार हो गईं थीं. बाकी हीरोइंस को कुछ समस्या थी. दरअसल शर्लिन भले ही बड़ा नाम ना हों लेकिन इस तरह की फिल्म के लिए जो एटीट्यूड चाहिए वो उनमें कूट कूट के भरा है."

रुपेश पॉल, 'कामसूत्र-3 डी' के निर्देशक

इनमें से शर्लिन चोपड़ा को ही क्यों चुना गया? इसकी वजह बताते हुए रुपेश कहते हैं, "शर्लिन फिल्म में पूरी तरह से नग्न दृश्य करने के लिए तैयार हो गईं थीं. बाकी हीरोइनों को कुछ समस्या थी. दरअसल शर्लिन भले ही बड़ा नाम ना हों लेकिन इस तरह की फिल्म के लिए जो एटीट्यूड चाहिए वो उनमें कूट कूट के भरा है."

रुपेश ने ये भी बताया कि उन्होंने कई नामचीन अभिनेत्रियों को भी इसका ऑफर दिया था. एक बड़ी हीरोइन तो तैयार भी हो गईं थीं. लेकिन उनके ब्वॉयफ्रेंड ने उन्हें अनुमति नहीं दी.

रुपेश के मुताबिक फिल्म के दो संस्करण होंगे. एक भारतीय और एक विदेशी मार्केट के लिए.

भारतीय संस्करण में पूर्णत: नग्न दृश्य नहीं होगा. जबकि विदेशी संस्करण में शर्लिन का पूरी तरह से नग्न दृश्य होगा. फिल्म थ्री डी तकनीक में होगी.

रुपेश कहते हैं, "हमें फिल्म के विदेशी संस्करण से ज़्यादा उम्मीदें हैं. हमें अब तक भारत में फिल्म के लिए डिस्ट्रीब्यूटर नहीं मिला है लेकिन उत्तरी अमरीका के लिए अभी से वितरक मिल गए हैं."

रुपेश के मुताबिक फिल्म में कई बड़े नाम भी हैं. हालांकि उन्होंने वो नाम बताने से इनकार कर दिया.

बीच में ऐसी भी कुछ खबरें आईं थीं कि गोवा फिल्म समारोह के आयोजकों को 'कामसूत्र' का ट्रेलर इतना उत्तेजक लगा कि उसे समारोह में दिखाने पर एकराय नहीं बन पाई है. हालांकि रुपेश पॉल ने इस बात की खुले तौर पर पुष्टि नहीं की.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.