BBC navigation

खतरों के खिलाड़ी बॉन्ड पहुंचे अफगानिस्तान

 मंगलवार, 20 नवंबर, 2012 को 07:34 IST तक के समाचार
डेनियल क्रेग

क्रेग को अपने बीच पाकर सैनिक बहुत खुश थे

खतरों से खेलना जेम्म बॉन्ड के लिए कोई नई बात नहीं है. लेकिन इस बार जेम्स बॉन्ड यानी अभिनेता डेनियल क्रेग जा पहुंचे दुनिया की सबसे खतरनाक जगहों में से एक अफगानिस्तान.

क्रेग वहां ब्रितानी फौजियों से मिले और उनके साथ मिल कर जेम्स बॉन्ड सीरीज की ताजातरीन फिल्म 'स्काईफॉल' देखी.

अफगानिस्तान के दक्षिणी प्रांत हेलमंद में ब्रितानी सैनिकों के अड्डे कैंप बेशन में उनका बेहद गर्मजोशी से स्वागत हुआ. इस मौके पर लगभग 800 सैनिक, नाविक और फौजी मौजूद थे.

क्रेग को इस फौजी अड्डे का दौरा भी कराया गया. वो फौजियों से मिले और जाना कि उन्हें किस तरह की ट्रेनिंग की जाती है.

'मनोबल बढ़ा'

"हमसे मिलने बहुत से लोग आते हैं, लेकिन जेम्स बॉन्ड का आना बहुत खास है."

रॉब इंगाम, सैन्य अफसर

उन्हें शिविर और उसके आसपास घुमाने वाले सैन्य अफसर रॉब इंगाम ने कहा, “हमसे मिलने बहुत से लोग आते हैं, लेकिन जेम्स बॉन्ड का आना बहुत खास है.”

जेम्स बॉन्ड स्टार को उन मशीन गनों से कुछ गोलियां दागने का भी मौका दिया गया जिन्हें ब्रितानी फौजी इस्तेमाल करते हैं.

उन्होंने कैंप बेशन के अस्पताल के कर्मचारियों और वहां मौजूद मरीजों से भी मुलाकात की.

एक मेडिकल टेक्नीशियन 23 वर्षीय स्कॉट क्राग्स का कहना है, “सचमुच इससे सबका मनोबल बढ़ा है. बड़ी अच्छी बात है कि उन्होंने यहां आने के लिए वक्त निकाला और सब से मिले.”

क्रेग ने ये भी देखा कि बमों को कैसे तलाश किया जाता है. यहीं उन्होंने बम डिटेक्टर को आजमाया भी और ट्रेनिंग के लिए इस्तेमाल होने वाले जमीन के नीचे दबे उपकरणों को तलाश किया.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.