आमिर से मेरा कोई झगड़ा नहीं: रीमा कागती

  • 8 नवंबर 2012
आमिर खान, रीमा कागती

आमिर खान के अपनी फिल्मों के निर्देशकों से झगड़े की कथित खबरें बराबर मीडिया की सुर्खियां बनती रही हैं.

फिल्म 'तारे ज़मीन पर' के वक्त निर्देशक अमोल गुप्ते से उनके ज़बरदस्त रचनात्मक मतभेद हुए, जिसके बाद उन्होंने अमोल को निर्देशन से हटा कर खुद इसकी कमान संभाल ली.

फिर अपनी होम प्रोडक्शन फिल्म 'पीपली लाइव' की निर्देशक अनुषा रिज़वी के साथ उनके मतभेद की भी खबरें सामने आईं.

इसके बाद उनकी फिल्म 'तलाश' की निर्देशक रीमा कागती के साथ भी उनके तनाव की खबरें लगातार सामने आईं. लेकिन अब रीमा ने साफ तौर पर इन खबरों का खंडन कर दिया है.

मुंबई में 'तलाश' के बारे में पत्रकारों से मुखातिब रीमा ने कहा, "मेरे और आमिर के मतभेदों की बातें बिलकुल गलत हैं. ऐसा कुछ भी नहीं हुआ. बल्कि आमिर ने तो हर कदम पर मेरा साथ दिया. एक कलाकार होने के नाते भी और एक निर्माता होने के नाते भी."

गौरतलब है कि फिल्म तलाश में मुख्य भूमिका निभाने के अलावा आमिर इसके सह निर्माता भी हैं. फिल्म को आमिर खान प्रोडक्शंस और रितेश सिधवानी, फरहान अख्तर का प्रोडक्शन हाउस एक्सेल एंटरटेनमेंट मिलकर बना रहे हैं.

दो साल किया आमिर का इंतज़ार

बीच में ये भी खबर आई थी कि फिल्म के लिए आमिर नहीं बल्कि शाहरुख पहली पसंद थे.

इसके जवाब में भी रीमा ने कहा, "जब मैंने और ज़ोया अख़्तर ने फिल्म की कहानी पूरी लिखी तो उसके बाद आमिर खान को अप्रोच किया तो वो फिल्म गजनी में व्यस्त थे.

उसके बाद उन्होंने बताया कि वो बतौर निर्माता कुछ फिल्मों में बिज़ी हैं. तो हमने उनके बाद कई दूसरे बड़े सितारों को अप्रोच किया, लेकिन बात नहीं बनी. दो साल बाद जाकर कहीं हमें फिर आमिर को स्क्रिप्ट सुनाने का मौका मिला. उन्होंने कहानी सुनी और काम करने के लिए मान गए."

फिल्म तलाश में आमिर के अलावा करीना कपूर और रानी मुखर्जी की भी मुख्य भूमिका है.

अमिताभ बच्चन की प्रशंसक

तलाश से पहले रीमा हनीमून ट्रैवल्स नाम की फिल्म का भी निर्देशन कर चुकी हैं.

इससे पहले वो मीरा नायर, हनी ईरानी, फरहान अख्तर और आशुतोष गोवारीकर जैसे निर्देशकों को असिस्ट भी कर चुकी हैं.

रीमा ने बताया कि वो बचपन से ही एकदम विशुद्ध मसाला फिल्मों देखने की शौकीन रही हैं और अमिताभ बच्चन की वो दीवानी थीं. रीमा ने ये भी बताया कि वो अमिताभ की तरह उनकी स्टाइल में संवाद भी बोला करती थीं.