'सिर्फ आठ-दस एक्टर्स के इर्द गिर्द घूमते हैं हम'

  • 15 अक्तूबर 2012
फिल्म स्टूडेंट ऑफ द ईयर

दो साल के अंतराल के बाद करण जौहर फिर से बतौर निर्देशक लौट रहे हैं फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' से.

ये फिल्म इस शुक्रवार को रिलीज़ हो रही है. और अपनी पिछली फिल्मों से हटकर करण ने इसमें नए चेहरों को मौका दिया है. फिल्म में आलिया भट्ट, सिद्धार्थ मल्होत्रा और वरुण धवन जैसे नए कलाकार हैं.

बीबीसी एशियन नेटवर्क की शबनम महमूद से खास बात करते हुए करण कहते हैं, "नए, युवा टैलेंट तो मौका देना बहुत ज़रूरी है. क्योंकि हिंदी फिल्म उद्योग में आठ-दस कलाकार ही हैं, जिनके पास घूम फिरकर हम जाते रहते हैं. और फिल्में बनाते रहते हैं."

ये अलग बात है कि करण जिस 'नए टैलेंट' की बात कर रहे हैं उनमें से दो कलाकार तो फिल्मी परिवार से ही ताल्लुक रखते हैं. आलिया भट्ट, फिल्मकार महेश भट्ट की बेटी हैं, जबकि वरुण धवन, मशहूर निर्देशक डेविड धवन के बेटे हैं.

फिल्म 'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' से पहले करण की बतौर निर्देशक आखिरी फिल्म थी 'माय नेम इज़ खान', जो साल 2010 में रिलीज़ हुई थी.

'स्टूडेंट ऑफ द ईयर' में ऋषि कपूर की भी अहम भूमिका है. ख़बरे हैं कि ऋषि, एक कॉलेज प्रिसिंपल का किरदार निभा रहे हैं, जो गे है. क्या ये बात सही है. ये पूछने पर करण कहते हैं, "मैं ऋषि जी के करिदार के बारे में ज़्यादा नहीं बताऊंगा. सिर्फ इतना कहूंगा कि वो काफी मस्तमौला किरदार निभा रहे हैं."

करण जौहर इस फिल्म के निर्माता भी हैं. शाहरुख खान फिल्म के सह निर्माता हैं. फिल्म में काजोल ने अतिथि भूमिका निभाई है.

ये पहला मौका है जब करण जौहर नए चेहरों को लेकर फिल्म निर्देशित कर रहे हैं. इससे पहले उनकी सारी फिल्में जैसे कुछ कुछ होता है, कभी ख़ुशी कभी ग़म, कभी अलविदा ना कहना और माय नेम इज़ ख़ान स्थापित सुपरस्टार्स को लेकर बनाई गई थीं.

संबंधित समाचार