BBC navigation

कैसी है 'शिरीन फरहाद की तो निकल पड़ी'

 शुक्रवार, 24 अगस्त, 2012 को 18:10 IST तक के समाचार

समझदार दर्शकों ने निश्चित रूप से ही हिंदी सिनेमा का काफी उद्धार किया है. इसकी वजह से फिल्मकार नए चेहरों के साथ नई और तरो ताजा कहानियों को कहने का साहस कर पा रहे हैं.

हालांकि अभी ये कोशिशें काफी नहीं है और हमें अभी काफी आगे जाना है.

इस हफ्ते रिलीज हुई फिल्म शिरीन फरहाद की तो निकल पड़ी में एक नए तरह का रोमांस है.

इससे पहले भला किस हिंदी फिल्म ने 40 साल से ऊपर उम्र के किरदारों के रोमांस को दिखाया है. बेला सहगल की बतौर निर्देशक ये पहली फिल्म ये ताजगी भरा रोमांस लेकर आए हैं.

क्लिक करें क्लिक कीजिए और देखिए शिरीन फरहाद की तस्वीरें

फरहाद (बोमन ईरानी) एक सेल्समेन है जो महिलाओं के अंतर्वस्त्र बेचता है.

उसकी मां नरगिस (डेजी ईरानी) और नानी (शम्मी) ही उसकी दुनिया में है. उन्हें सिर्फ फरहाद की चिंता है. नरगिस अपने बेटे के लिए एक उपयुक्त पारसी बहू के सपने देख रही है.

शिरीन फरहाद की तो निकल पड़ी

  • कलाकार: बोमन ईरानी, फराह खान
  • निर्माता: संजय लीला भंसाली
  • निर्देशक: बेला सहगल
  • रेटिंग: **1/2

दूसरी ओर शिरीन अपनी बुआ और अपने पिता, जो कोमा में है उनके साथ रहती है.

वो फरहाद की दुकान में अपने लिए अंतर्वस्त्र खरीदने जाती है जहां दोनों की मुलाकात होती है. फिर ऐसी परिस्थितियां बनती हैं कि दोनों की बार-बार मुलाकात होती है, लेकिन शिरीन की कुछ हरकतों की वजह से फरहाद की मां उससे बेहद गुस्सा हो जाती है.

अच्छा निर्देशन

अधेड़ उम्र के दो किरदारों के बीच एक हल्की फुल्की, मजेदार फिल्म बनाकर बेला, दर्शकों का दिल जीत लेती हैं.

फराह खान ने बेहद सहज अभिनय किया है. नाटकीयता से वो कोसों दूर रही हैं और इसके लिए उनकी तारीफ करनी होगी. हालांकि बोमन ने भी खासी कोशिश की है, लेकिन वो अपने अभिनय से उतना नहीं लुभा पाते.

फराह की तुलना में वो मंझे हुए कलाकार हैं लेकिन इस किरदार में घुसने की उनकी कोशिश पर्दे पर नजर आती है.

फिल्म में फरहाद, उसकी मां और नानी के बीच के दृश्यों को खूबसूरती से फिल्माया गया है. शिरीन और फरहाद यानी बोमन और फराह के बीच नोंकझोंक के दृश्य भी देखने लायक बन पड़े हैं.

निर्देशक निदेशक बेला सहगल, जिन्हें उनके भाई संजय लीला भंसाली ने ये फिल्म बनाने में पूरा सहयोग दिया है.

जीत गांगुली का संगीत फिल्म की थीम के अनुरूप है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.