अंतरंग दृश्य करूंगी बशर्ते... : ऋचा चड्ढा

 बुधवार, 1 अगस्त, 2012 को 12:10 IST तक के समाचार
ऋचा चड्ढा

अनुराग कश्यप की फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर के पहले हिस्से में सरदार खान (मनोज बाजपेई) की पत्नी नगमा अब इसके दूसरे हिस्से में बूढ़ी हो चुकी है. और नगमा बनी ऋचा चड्ढा मानती हैं कि यही उनके लिए असल चैलेंज है.

बीबीसी से खास बात करते हुए ऋचा चड्ढा ने कहा, "मैं 25 साल की हूं. और गैंग्स के दूसरे हिस्से में मैंने 60-65 साल की महिला का किरदार निभाया है. पहले हिस्से में तो चलो मेरे अभिनय की तारीफ हुई. लेकिन असल चुनौती अब है कि मैं एक बूढ़ी महिला का किरदार, जो असल ज़िंदगी में मेरी मां से भी बड़ी है, कैसे निभा पाती हूं."

गैंग्स ऑफ वासेपुर का ये दूसरा हिस्सा अगले सप्ताह परदे पर होगा. ऋचा चड्ढा मानती हैं निर्देशक अनुराग कश्यप ने उन्हें ये बहुत बड़ा मौका दिया और फिल्म के पहले हिस्से की कामयाबी ने उन्हें बहुत प्रोत्साहन भी दिया और उनके करियर को एक नई दिशा दी.

अंतरंग दृश्य करने की शर्त

"मैं अंतरंग दृश्य करूंगी. बशर्ते निर्माता या निर्देशक की नीयत सिर्फ अंग प्रदर्शन के बलबूते अपनी फिल्म को बेचने की ना हो. वो दृश्य कहानी का हिस्सा होना चाहिए."

ऋचा चड्ढा, अभिनेत्री

फिल्म में कुछ अंतरंग दृष्य भी थे. क्या भविष्य में वो ऐसे दृश्य करना चाहेंगी.

ऋचा चड्ढा ने कहा, "मैं अंतरंग दृश्य करूंगी. बशर्ते निर्माता या निर्देशक की नीयत सिर्फ अंग प्रदर्शन के बलबूते अपनी फिल्म को बेचने की ना हो. वो दृश्य कहानी का हिस्सा होना चाहिए. देखिए, पहले भी सिमी ग्रेवाल, शबाना आजमी और स्मिता पाटिल जैसी अभिनेत्रियों ने परदे पर अंतरंग दृश्य किए हैं. लेकिन लोग उन्हें महान अभिनेत्री मानते हैं. क्योंकि इन अभिनेत्रियों ने जो किया, कहानी की मांग के हिसाब से किया. बस यूं हीं अंग प्रदर्शन नहीं कर दिया."

ऋचा चड्ढा दिल्ली की रहने वाली हैं लेकिन अब फिल्म करियर की वजह से उन्हें मुंबई में रहना पड़ता है.

ऋचा चड्ढा

वो दिल्ली को बहुत मिस करती हैं. अपने बचपन के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें शुरू से ही नाचने गाने का शौक था. इसी वजह से उन्होंने कत्थक सीखा. फिर उन्हें अभिनय में रुचि हुई तो स्कूल और कॉलेज स्तर पर उन्होंने ड्रामा में हिस्सा लेना शुरू किया. फिर वो मुंबई आ गईं, और यहां उनका करियर चल निकला.

आने वाली फिल्में

ऋचा चड्ढा की आने वाली फिल्म है तमंचे, जिसमें उन्होंने दिल्ली में रहने वाली एक अनाथ लड़की का किरदार निभाया है, जिसे परिस्थितियां अपराध की दुनिया में आने पर 'मजबूर' कर देती हैं.

ऋडा चड्ढा कहती हैं कि गैंग्स ऑफ वासेपुर के पहले हिस्से की कामयाबी ने उनके लिए अवसरों के द्वार खोल दिए हैं. और उन्हें फिल्म के रिलीज होने के दूसरे ही दिन 10-11 स्क्रिप्ट्स मिल गईं.

लेकिन फिलहाल वो 'जल्दबाजी' में नहीं हैं. और सोच-समझकर फिल्में चुनना चाहती हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.