गुलज़ार की 'दस तोला'

फ़िल्म 'दस तोला' के सदस्यों के साथ गुलज़ार

'दस तोला' के म्यूज़िक लॉन्च के मौक़े पर गुलज़ार के साथ फ़िल्म की बाक़ि टीम

नए निर्देशक अजोय की फ़िल्म 'दस तोला' के गीत गुलज़ार ने लिखे हैं और उन्होंने ही फ़िल्म का म्यूज़िक लॉन्च मुंबई में किया.

इस मौक़े पर गुलज़ार ने कहा, "मैं चुनिंदा काम ही करता हूं जो मेरे दिल को छूता है. हर तरह का काम करूंगा तो लोग पसंद नहीं करेंगे."

"नए निर्देशकों और नए संगीतकारों के पास बहुत कुछ नया करने के लिए होता है. इसलिए मैं उनके साथ काम करना पसंद करता हूं."

गुलज़ार ने बताया कि वो फ़िल्म के संगीतकार संदेश शांडिल्य के साथ काम करने के बड़े इच्छुक थे.

उन्होंने कहा, "संदेश का संगीत भले ही थोड़ा पुराने ज़माने का लगे वो काफ़ी सुरीला संगीत है. वो सिर्फ़ 'बीट कल्चर' में विश्वास नहीं रखते."

गुलज़ार के अनुसार, "'दस तोला का संगीत फ़िल्म की कहानी के साथ बहता है. एक गाने में लोक संगीत की झलक भी आपको मिलेगी. इस तरह का संगीत आजकल कहां सुनने को मिलता है. अच्छा लगता है जब आप कहानी का हिस्सा ही बन जाएं."

फ़िल्म के अभिनेता मनोज वाजपेयी का कहना है, "ये एक लोक कथा है जो कि एक गांव के एक सुनार की कहानी है."

दस तोला का संगीत फ़िल्म की कहानी के साथ बहता है. एक गाने में लोक संगीत की झलक आपको मिलेगी.

गुलज़ार, गीतकार

फ़िल्म में सुनार की भूमिका मनोज ने ही निभाई है.

अपने रोल के बारे में मनोज कहते हैं, "ये सुनार एक बहुत ही अच्छा इंसान है. फ़िल्म में दिखाया गया है कि कैसे दस तोला सोना इसकी ज़िंदगी ही बदल देता है."

फ़िल्म के निर्देशक अजोय के बारे में मनोज कहते हैं कि वो श्याम बेनेगल, प्रियदर्शन और गुलज़ार जैसे फ़िल्मकारों से प्रेरित हैं.

फ़िल्म में मनोज वाजपेयी की प्रेमिका का रोल निभाया है आरती छाबड़िया ने.

अपने रोल के बारे में आरती कहती हैं, "मेरे किरदार का नाम स्वर्णलता है. प्यार से उसे सुनार सोनू बुलाता है और सोनू को सोना बहुत पसंद है."

"मैंने ये फ़िल्म तीन कारणों से की. एक तो मनोज वाजपेयी जैसे उमदा कलाकार, फिर गुलज़ार साब के गीत और एस कुमार का छायांकन."

फ़िल्म 22 अक्टूबर को रिलीज़ होनी है.

BBC navigation

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.