नए निर्देशकों के साथ काम करना पसंद: राजीव

राजीव खंडेलवाल

ऐक्टर राजीव खंडेलवाल को नए निर्देशकों के साथ काम करने का कोई पछतावा नहीं है.

फ़िल्म आमिर से बॉलीवुड में कदम रखने वाले ऐक्टर राजीव खंडेलवाल को नए निर्देशकों के साथ काम करने का कोई पछतावा नहीं है.

‘आमिर’, निर्देशक राजकुमार गुप्ता की पहली फ़िल्म थी. जल्द ही राजीव एक और नए निर्देशक जॉन अवन की फ़िल्म ‘पीटर गया काम से’ में नज़र आएंगे. इसके अलावा वो दो और नए निर्देशक, विक्रम टुली की ‘मैं जोकर’ और एहसान हैदर की ‘तैनात’ में भी काम कर रहे हैं.

राजीव कहते हैं, “सच तो ये है कि दिग्गज और अनुभवी निर्देशकों ने मुझे कोई ऑफ़र्स नहीं दिए. नए या तीन-चार फ़िल्म कर चुके निर्देशकों ने ही मेरे पास आए या आ रहे हैं. लेकिन मुझे ये लगा कि पहली बार निर्देशन कर रहे निर्देशकों की स्क्रिप्ट्स ज़्यादा रोमांचक होती हैं क्योंकि पहली फ़िल्म होने की वजह से वो ज़्यादा मेहनत और जोश के साथ बनाते हैं. अब तक मुझे अपने फ़ैसले पर पछतावा नहीं हुआ है. निर्देशक की मेहनत का फ़ायदा ऐक्टर को भी मिलता है.”

जो कुछ भी आपने सोच रखा हो, वो तो फिर भी आसान हो जाता है क्योंकि आप किसी किताब या फ़िल्म से प्रेरणा ले सकते हैं. लेकिन मज़ा तो तब आता है जब कोई कहानी सुनाता है और आपको लगता है कि मैंने तो इसके बारे में सोचा ही नहीं था, ऐसा किरदार जिसके बारे में आपको बिलकुल भी अंदाज़ा नहीं हो.

राजीव खंडेलवाल

अपने ड्रीम रोल के बारे में राजीव कहते हैं कि वो ऐसा रोल होगा जिसके बारे में मैंने सोचा भी न हो.

राजीव कहते हैं, “जो कुछ भी आपने सोच रखा हो, वो तो फिर भी आसान हो जाता है क्योंकि आप किसी किताब या फ़िल्म से प्रेरणा ले सकते हैं. लेकिन मज़ा तो तब आता है जब कोई कहानी सुनाता है और आपको लगता है कि मैंने तो इसके बारे में सोचा ही नहीं था, ऐसा किरदार जिसके बारे में आपको बिलकुल भी अंदाज़ा नहीं हो.”

टेलीविज़न

‘कहीं तो होगा’ और ‘लेफ़्ट राइट लेफ़्ट’ सीरियल्स से शोहरत पाने वाले टीवी और फ़िल्म ऐक्टर राजीव खंडेलवाल भविष्य में सीरियल्स नहीं करना चाहते.

इन सीरियल्स के बाद राजीव ने फ़िल्मों में कदम रखा और 2008 में आई उनकी फ़िल्म ‘आमिर’ जिसके बाद उन्होंने एक बार टीवी का रुख किया और रियेल्टी शो ‘सच का सामना’ होस्ट किया.

लेकिन अब राजीव आगे बढ़ना चाहते हैं. वो कहते हैं, “टेलिविज़न पर मैं वो करना चाहूंगा जो लीक से हट कर हो, नया हो. जो मैं पहले कर चुका हूं वो मैं दोहराना नहीं चाहता, चाहे वो टीवी हो, फ़िल्म या फिर थियेटर.”

BBC navigation

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.