प्रचार चाहिए पर विवादों से नहीं: राखी

बॉलीवुड 'आइटम गर्ल' राखी सावंत का कहना है कि उन्हें भी प्रचार की ज़रूरत है, लेकिन विवादों में घिर कर नहीं.

राखी सावंत और विवादों का मानो चोली दामन का साथ है. फिर चाहे पंजाबी गायक मीका के साथ चुंबन विवाद हो या रियलिटी शो 'यस बॉस' में उनके बिंदास बयान. राखी हर वक़्त चर्चाओं में रहती हैं.

उनसे बात की बीबीसी संवाददाता दुर्गेश उपाध्याय ने. पेश हैं इसके ख़ास अंश.

कैसा रहा 'आइटम गर्ल' से 'सुपर गर्ल' का सफ़र?

बहुत लंबा सफ़र रहा है. जितनी मुश्किलें मैने देखी हैं, उतना शायद ही किसी और ने देखी होगी. आइटम गर्ल से सुपर गर्ल बन गई हूँ अब देखिए जिंदगी में और कितना सफ़र तय करती हूँ.

आइटल गर्ल का टैग, कैसा लगता है?

सच कहूँ तो आज आइटम गर्ल का टैग हर हीरोइन पाना चाहती है. ऐश्वर्या, सुष्मिता, हेलेन सभी ने आइटम गर्ल की भूमिका अदा की है. बहुत सी अभिनेत्रियाँ ख़ुद को मीना कुमारी और मुझे हेलेन कहती हैं, लेकिन सच्चाई ये है कि वे ये कहकर अपनी हताशा का इजहार करती हैं.

आपने कहा था कि आपको प्रचार की ज़रूरत नहीं है, क्या ये सही है?

मैं ये नहीं कहती कि मुझे प्रचार की ज़रूरत नहीं है. दुनिया में हर किसी को पब्लिसिटी चाहिए. मुझे भी प्रचार चाहिए, लेकिन विवादास्पद मामले में नहीं. मैं चाहती हूँ कि बेहतर अदाकार के रूप में मेरा प्रचार हो.

फ़िल्म इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाने के लिए आपको ताक़त कहाँ से मिली?

फ़िल्म इंडस्ट्री में मेरा कोई गॉडफ़ादर नहीं है. मैने जीवन में बहुत संघर्ष और मुश्किलों का दौर झेला है. एक लड़का है मेरी ज़िंदगी में अभिषेक नाम का. लेकिन जीवन में इतना दर्द देखा है कि अभी शादी करने का दिल नहीं करता. मैं मदर टेरेसा, सोनिया गांधी, मायावती, शोभा डे जैसी हस्तियों के जीवन से कुछ न कुछ लेना चाहती हूँ.

कैसा रहा राखी के बाउंसर शो का अनुभव?

ये शो विश्व कप क्रिकेट के मद्देनज़र किया गया था, लेकिन जैसे ही भारतीय टीम विश्व कप से बाहर हुई, शो भी बदल गया. डायलॉग बदल गए, कपड़े बदल गए और 'सहारा फ़िल्मी' चैनल के लिए मैंने काम करना शुरू कर दिया.

राखी के कई रूप दिखते हैं, कभी अस्पतालों में मदद करती राखी तो कभी बड़े-बड़े शो में कमर मटकाती राखी. असली राखी कौन है?

देखिए मैं जो अंदर हूँ, वही बाहर भी. आपको बताऊँ तो आज भी मेरे पैर में चोट है, लेकिन मैं जब किसी से वादा कर लेती हूँ तो पूरी कोशिश रहती है कि उसे पूरा करूं.

मीका का मामला हो या नर्सों की ड्रेस पहनकर ठुमके लगाने का. विवाद अपने आप आपसे जुड़ जाते हैं?

मेरी कुंडली में शनि और मंगल बहुत पावरफुल है, इसलिए विवाद अपने आप जुड़ जाते हैं.

'शूटआउट एट लोखंडवाला' में आपकी भूमिका क्या है?

इस फ़िल्म में मेरा छोटा, लेकिन बहुत महत्वपूर्ण किरदार है. मुझे खुशी इस बात की है कि जिस फ़िल्म में अमिताभ बच्चन हैं, उसमें इतना रोल भी काफ़ी है. इसमें मेरा किरदार एक अभिनेत्री का है. दरअसल, फ़िल्म की कहानी 1991 में लोखंडवाला में हुए शूटआउट पर है. फ़िल्म में पूजा बेदी मुझे फ़िल्मा रही होती हैं, तभी शूटआउट होने लगता है और वह शूटिंग छोड़ शूटआउट को कैमरे में क़ैद करने लगती हैं.

हमने सुना है कि करण जौहर के साथ इंटरव्यू में प्लास्टिक सर्जरी के मामले में कुछ विवाद हुआ था. ये मामला वास्तव में था क्या?

मैने करण जौहर के शो में भी कहा था कि जब मैं फ़िल्म इंडस्ट्री में आई तो कोई काम नहीं देता था. फिर मैने सोचा कि ग्लैमरस दिखे बग़ैर काम नहीं बनेगा. डॉक्टरों से सलाह ली तो उन्होंने बताया कि लिप्स सर्जरी होती है, ब्रेस्ट सर्जरी होती है. उन्होंने मुझे दूसरी हीरोइनों की सर्जरी की तस्वीरें भी दिखाई. तब मैने सर्जरी कराई.

रिचर्ड गियर के साथ शिल्पा चुंबन विवाद पर आप क्या कहती हैं?

चुंबन के बाद शिल्पा का ये कहना कि मेरा चुंबन ही तो लिया कोई चीरहरण तो नहीं हुआ, सुनकर बहुत ख़राब लगा. तो क्या चीरहरण के बाद ही आवाज़ उठानी चाहिए.

चूँकि वह एड्स जागरूकता के प्रचार का मामला था तो अगर मैं शिल्पा की जगह होती तो स्टेज पर किसी एड्स पीड़ित को बुलाती और उसे चुंबन देती. इससे ये संदेश जाता कि चुंबन देने से एड्स नहीं फैलता.

रिचर्ड गियर को भारतीय संस्कृति का ख़्याल रखना चाहिए था. उन्हें ये नहीं भूलना चाहिए था कि शिल्पा हॉलीवुड की नहीं, बॉलीवुड की हीरोइन हैं.

अगर मेरे साथ ऐसा होता तो मैं गियर को माफ़ी माँगने के लिए मजबूर करती.

BBC navigation

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.