चीन: शादी पर करोडों के खर्च के बाद चेतावनी !

 शनिवार, 14 अप्रैल, 2012 को 17:20 IST तक के समाचार

चीन में प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ ने अमीर और गरीब के बीच बढ़ती दरार पर चिंता जताई है

चीन में एक कोयले की खान के मालिक द्वारा अपनी बेटी की शादी पर 1.1 करोड़ डॉलर यानी लगभग 55 करोड़ रुपए खर्च करने के बाद वहां के प्रांत शानशी में व्यापारियों को दिखावे के लिए खर्च पर चेतावनी जारी हुई है.

अधिकतर लोगों के लिए किसी एक अवसर पर इतना खर्च करना काफी मुश्किल हो सकता है. लेकिन स्थानीय मीडिया के अनुसार चीन में ऐसा नहीं है.

समाचार पत्र 'चाईना डेली' में छपी एक तस्वीर के मुताबिक सान्या की एक आरामगाह के बाहर तीन सजी हुई फेरारी स्पोर्टस कारें खड़ी थी जहां शिंग लिबिन की बेटी की शादी का समारोह चल रहा था.

ऑनलाइन मीडिया में इस शादी में हुए कॉनसर्ट की तस्वीरें छपीं थी जिसमें चीन के कई सितारों ने भाग लिया था. उन्होंने कहा कि शिंग लिबिन ने कई पांच सितारा होटलों को किराए पर ले रखा था और चार्टर्ड जहाजों में लोगों को लाया गया था.

इन आंकडों की स्वतंत्र सूत्रों से पुष्टि कर पाना कठिन है लेकिन शिंग लिबिन की बेटी की शादी ने स्थानीय अधिकारियों को बहुत नाराज कर दिया है.

शिंग लिबिन फोर्ब्स की चीन के अमीर लोगों की सूची में 244वें नंबर पर हैं और उनकी कुल संपत्ति लगभग 70 करोड़ डॉलर आंकी गई है.

'दिखावा न करें'

लुलियांग शहर में सरकार के समर्थन वाले चैंबर ऑफ कॉमर्स ने कहा है कि व्यापारियों को संपत्ति के प्रति उचित रवैया अपनाना चाहिए.

उनसे कहा गया है कि दिखावे पर खर्च न करें और मुनाफे को समाज की भलाई के लिए लगाएं.

चीन में जब व्यवसायी किसी खान के बारे में अनुबंध करते हैं तो वे आर्थिक जोखिम तो उठाते हैं लेकिन सस्ती मजदूरी और कोयले की भारी मांग के चलते इसमें मुनाफा भी खासा ही होता है.

प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ उन लोगों में से हैं जिन्होंने चीन की सुधरती अर्थव्यवस्था के चलते अमीर और गरीब में बढ़ रही दूरी को कम करने की जरुरत पर जोर दिया है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.