चीन की सड़कों पर रॉल्स रॉयस के फ़र्राटे

 सोमवार, 9 जनवरी, 2012 को 18:12 IST तक के समाचार
रॉल्स रॉयस

रॉल्स रॉयस दुनिया की मंहगी कारों में से एक है.

दुनिया की सबसे मंहगी कारों में से एक रॉल्स रॉयस के निर्माताओं का कहना है कि पिछले वर्ष उनके कारों की बिक्री 105 सालों में सबसे अधिक रही.

वर्ष 1906 में स्थापित कंपनी का कहना है कि साल 2011 में 3538 रॉल्स रॉयस कार बिकीं, जिससे उनकी बिक्री में 31 फ़ीसद का इज़ाफ़ा हुआ.

इस बढ़ोतरी के कारणों में से एक चीन में रॉल्स रॉयस की ब्रिकी में आई भारी तेज़ी है, जो पिछले सालों में रॉल्स रॉयस का अमरीका से भी बड़ा बाज़ार बनकर उभरा है.

हाल तक अमरीका रॉल्स रॉयस का सबसे बड़ा बाज़ार माना जाता था.

कार कपंनी की कम क़ीमत वाले मॉडल 'घोस्ट' को भी बढ़ी बिक्री की वजह बताया जा रहा है जिसकी क़ीमत एक लाख पैंसठ हज़ार पाउंड है.

छोटे आकार वाला 'घोस्ट' मॉडल 'फ़ैंटम' के मुक़ाबले काफ़ी सस्ता है. 'फैंटम' की क़ीमत दो लाख पैंतीस हज़ार पाउंड थी.

रॉल्स रॉयस के प्रमुख टॉर्सटन मुलर-ओट्वोस का कहना है कि कारों की बिक्री के मामले में साल 2011 बेजोड़ साबित हुआ.

जलवा

रॉल्स रॉयस

रॉल्स रॉयस की कम क़ीमत वाले मॉ़डल 'घोस्ट' की भारी मांग है.

इससे पहले, रॉल्स रॉयस की सबसे ज़्यादा बिक्री साल 1978 में हुई थी जब 3347 कारें बेची गई थीं.

उस समय बेंटले और रॉल्स रॉयस एक ही कंपनी के हिस्से थे.

कारों के ये दोनों ब्रांड एक दशक पहले तब अलग हो गए जब जर्मनी की कार निर्माता कंपनी फ़ॉक्सवैगन समूह ने उस कारख़ाने का अधिग्रहण कर लिया जहां बेंटले बनाई जाती थीं.

बाद में कार निर्माण करनेवाली एक दूसरी कंपनी बीएमडब्ल्यू ने रोल्स रॉयस ब्रांड के इस्तेमाल का अधिकार हासिल कर लिया और एक नई कंपनी स्थापित की जो नए मॉडल तैयार करने लगी.

कपंनी आगे भी नए मॉडल तैयार करते रहने का इरादा रखती है.

जानकार कहते हैं कि कंपनी 'घोस्ट' का एक और मॉडल बाज़ार में लाने की तैयारी में है जिससे बिक्री में और इज़ाफ़ा होगा.

वैश्विक बाज़ार

हाल के सालों में रॉल्स रॉयस की मांग जर्मनी और रूस जैसे देशों में भी बढ़ी है और बीते सालों वहां जमकर बिक्री हुई.

पिछले साल इस कार का बाज़ार एशिया प्रशांत क्षेत्र में 47 प्रतिशत, ब्रिटेन में 30 फ़ीसद और मध्य-पूर्व में 23 प्रतिशत बढ़ा.

अमरीका के बाद चीन उसका अहम बाज़ार बनता जा रहा है हालांकि कंपनी पूरे आंकड़े देने को तैयार नहीं है जिससे पता चल सके कि वहां उसके कितने कार बिके.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.